जीव विज्ञान (Biology)

0
30
- Advertisement - Disney + Hotstar  [CPS] IN

जीव विज्ञान क्या है ?

जीव विज्ञान अंग्रेजी भाषा के शब्द Biology का हिन्दी रुपान्तर है । Biology शब्द 2 शब्दों Bio तथा Logos से बना है  ।  Bio का अर्थ “जीवन” तथा Logos का अर्थ “अध्ययन” है । इस प्रकार Biology का अर्थ “जीवन का अध्ययन” है । अर्थात् जीव विज्ञान का “जीवन का अध्ययन” है । जीव विज्ञान शब्द का प्रयोग सर्वप्रथम फ्रांसीसी वैज्ञानिक लैमार्क तथा जर्मन वैज्ञानिक ट्रेविनेरिस ने सन् 1801 ई0 में किया था । जीव विज्ञान के अन्तर्गत समस्त जीवधारियों का अध्ययन किया जाता है ।

जीव विज्ञान का जनक किसे कहा जाता है ?

दार्शनिक अरस्तू को जीव विज्ञान तथा जन्तु विज्ञान का जनक कहा जाता है ।

चिकित्साशास्त्र का जनक किसे कहा जाता है ?

हिप्पोक्रेट्स ने मानव रोगों पर सर्वप्रथम लेख लिखा, इसलिए इन्हें चिकित्साशास्त्र का जनक कहा जाता है ।

समस्त जीवधारियों को कितने भागों में बांटा गया है ?

अरस्तू ने समस्त जीवधारियों को दो भागों में विभाजित किया –

- Advertisement - Disney + Hotstar  [CPS] IN

1. जन्तु जगत तथा

2. वनस्पति जगत ।

कैरोलस लीनियस ने भी अपनी पुस्तक सिस्टम नेचर(System Nature) में समस्त जीव धारियों को दो भागों जन्तु जगत तथा वनस्पति जगत में विभाजित किया है । कैरोलस लीनियस की वर्गीकरण प्रणाली से ही आधुनिक वर्गीकरण प्रणाली की नीव पड़ी, इसलिए इन्हें आधुनिक वर्गीकरण का पिता या जन्मदाता कहा जाता है  ।

आर0एच0 ह्विटकर ने  समस्त जीवधारियों को पांच भागों में विभाजित किया है-

  • मोनेर- इसके अन्तर्गत सभी प्रोकैरियोटिक  जीव होते हैं । जैसे- जीवाणु, नील हरित शैवाल,सायनोबैक्टीरिया,आर्की बैक्टीरिया, तन्तुमय जीवाणु आदि ।
  • प्रोटिस्ट- ये एक कोशिकीय जीव होते हैं । इसके अन्तर्गत सामान्यतया प्रोटोजोआ आते हैं । जैसे- अमीबा, पैरामीशियम आदि ।
  • कवक- ये यूकैरियोटिक तथा परपोषित होते हैं परन्तु इनमें पर्ण हरित नहीं पाए जाता  जिसके कारण इनमें प्रकाश संश्लेषण नहीं होता । इनमें अवशोषण द्वारा पोषण होता है । ये परजीवी या मृतोपजीवी होते हैं ।
  • प्लाण्टी (पादप)ये बहुकोशिकीय पौधे होते हैं जिनमें प्रकाश संश्लेषण होता है । जैसे- सभी पेड़ पौधे ।
  • एनिमेलिया(जन्तु)- ये बहुकोशिकीय तथा यूकैरियोटिक जन्तु होते हैं । इनको मेटोजोवा भी कहते हैं । जैसे- मछली, सरीसृप, उभयचर  पक्षी, हाइड्रा, जेलीफिश, कृमि, सितारा  तथा स्तनधारी जन्तु आदि ।

द्विनाम पद्धति के जन्मदाता कौन हैं ?

जीवो के नाम की द्विनाम पद्धति कैरोलस लीनियस हैं । द्विनाम पद्धति के अनुसार प्रत्येक जीवधारी का नाम लैटिन भाषा के 2 शब्दों (पहला शब्द वंश का नाम तथा दूसरा शब्द जाति का नाम ) से मिलकर बनता है । वर्गीकरण की आधारभूत इकाई जाति है ।

मनुष्य का वैज्ञानिक नाम क्या है ?

मनुष्य का वैज्ञानिक नाम होमो सैपियन्स है जिसमें वंश का नाम होमो तथा जाति का नाम सैपियन्स है ।

मानव शरीर की सबसे छोटी इकाई क्या है ?

मानव शरीर की सबसे छोटी इकाई कोशिका है ।

 जीव  विज्ञान की प्रमुख शाखाएं :

  • सेरीकल्चर-  इसके अन्तर्गत रेशम कीट पालन  का अध्ययन किया जाता है
  • एपीकल्चर- इसके अन्तर्गत मधुमक्खी पालन, शहद तथा मोम का अध्ययन किया जाता है
  • रेनोलॉजी-   इसके अन्तर्गत नाक, कान, गले का अध्ययन किया जाता है ।
  • पिसीकल्चर- इसके अन्तर्गत मत्स्य पालन का अध्ययन किया जाता है ।
  • कैलोलॉजी- इसके अन्तर्गत मानव सौंदर्य का अध्ययन किया जाता है ।
  • गायनोलाजी- इसके अन्तर्गत मादा प्रजनन अंगों का अध्ययन किया जाता है ।
  • हिप्नोलॉजी– नींद का अध्ययन किया जाता है ।
  • आनिरोलाजी-  इसके अन्तर्गत स्वप्न का अध्ययन किया जाता है ।
  • टॉक्सिकोलॉजी- इसके अन्तर्गत विषैले पदार्थों तथा शरीर पर इनके प्रभावों का अध्ययन किया जाता है ।
  • पैथोलॉजी-  इसके अन्तर्गत रोगों की प्रकृति, कारण एवं लक्षण का अध्ययन किया जाता है ।
  • पोल्ट्री-   इसके अन्तर्गत मुर्गी पालन का अध्ययन किया जाता है ।
  • जीरेन्टोलाजी-  इसके अन्तर्गत आयु विज्ञान का अध्ययन किया जाता है ।
  • आर्निथोलॉजी-  इसके अन्तर्गत पक्षियों का अध्ययन किया जाता है ।
  • इक्थ्योलॉजी-   इसके अन्तर्गत मछलियों का अध्ययन किया जाता है ।
  • एण्टीमोलाजी-  इसके अन्तर्गत कीटों का अध्ययन किया जाता है ।
  • आफियोलॉजी-   इसके अन्तर्गत सर्पों का अध्ययन किया जाता है ।जीव विज्ञान
  • सोरोलॉजी-  इसके अन्तर्गत छिपकलियों का अध्ययन किया जाता है ।
  • माइकोलॉजी-   इसके अन्तर्गत कवक का अध्ययन किया जाता है ।
  • फाइकोलॉजी-  इसके अन्तर्गत शैवाल का अध्ययन किया जाता है ।
  • एंथ्रोपोलॉजी-   इसके अन्तर्गत पुष्पों का अध्ययन किया जाता है ।
  • पोमोलॉजी-  इसके अन्तर्गत  फलों का अध्ययन किया जाता है ।
  • डेन्ड्रोलॉजी-   इसके अन्तर्गत वृक्षों एवं झाड़ियों का अध्ययन ।
  • सिल्वीकल्चर- इसके अन्तर्गत काष्ठी वृक्षों का अध्ययन किया जाता है ।
  • साइटोलॉजी- इसके अन्तर्गत कोशिका विज्ञान का अध्ययन किया जाता है ।
  • एनाटॉमी- इसके अन्तर्गत शरीर की आन्तरिक रचना का अध्ययन किया जाता है
  • कीमोथिरेपी-   इसके अन्तर्गत रासायनिक यौगिकों का अध्ययन किया जाता है
  • इकोलॉजी- इसके अन्तर्गत वनस्पतियों तथा प्राणियों के पर्यावरण या प्रकृति से सम्बन्धों का अध्ययन किया जाता है ।
  • न्यूरोलॉजी- इसके अन्तर्गत मानव शरीर की नाड़ियों तथा तन्त्रिकाओं का अध्ययन किया जाता है ।
  • हॉर्टिकल्चर– इसके अन्तर्गत फल फूल, साग सब्जियों, बागान तथा पुष्प उत्पादन का अध्ययन किया जाता है ।
  • मैमोग्राफी– इसके अन्तर्गत स्त्रियों के ब्रेस्ट कैन्सर की जांच का अध्ययन किया जाता है ।
  • ओडोन्टोलॉजी- इसके अन्तर्गत दांतो का अध्ययन एवं चिकित्सा की जाती  है ।
- Advertisement - Disney + Hotstar  [CPS] IN