रसायन विज्ञान (Chemistry)

0
29
- Advertisement - Disney + Hotstar  [CPS] IN
Contents hide
2 → परमाणु क्या है ?

रसायन विज्ञान क्या है ?

इसके अन्तर्गत पदार्थों के गुण, संरचना, संगठन तथा उनमें होने वाले परिवर्तनों का अध्ययन किया जाता है । रसायन विज्ञान अंग्रेजी शब्द Chemistry का हिन्दी रूपान्तर है ।  Chemistry शब्द की उत्पत्ति मिस्र के प्राचीन शब्द “Chemist” ( कीमिया )से हुई है  ।

रसायन विज्ञान के जनक कौन हैं ?

रसायन विज्ञान का जनक “लेवायसियर” को कहा जाता है ।

पदार्थ क्या है ?

कोई भी वस्तु जो स्थान घेरती हो जिसका एक निश्चित द्रव्यमान हो तथा जो अपनी संरचना ( बनावट ) में परिवर्तन का विरोध करती है, पदार्थ कहलाती है । जैसे- जल, मिट्टी, हवा, लोहा आदि ।

परमाणु क्या है ?

सभी पदार्थ अत्यन्त सूक्ष्म कणों से बने हैं जिसे परमाणु कहा जाता है ।

- Advertisement - Disney + Hotstar  [CPS] IN

पदार्थ को कितने भागों में बांटा गया है ?

पदार्थ को मुख्यतः दो भागों में बांटा गया है-

(क) भौतिक पदार्थ

(ख) रासायनिक पदार्थ ।

  • भौतिक पदार्थ –   इसे तीन भागों में बांटा गया है-

1-ठोस

2– द्रव

3– गैस ।

  • रासायनिक पदार्थ- इससे मुख्यतया  दो भागों में बांटा गया है-

(1)  शुद्ध पदार्थ

(2)  मिश्रण  ।

(1) शुद्ध पदार्थ-   इसे दो भागों में बांटा गया है-

(a)तत्व तथा

(b)यौगिक ।

(a) तत्व-   इसे दो भागों में बांटा गया है- (1) धातु तथा (2) अधातु ।

(2) मिश्रण-   इसे दो भागों में बांटा गया है- (1) समांग मिश्रण (2) विषमांग मिश्रण ।

पदार्थ की ठोस अवस्था क्या है ?

पदार्थ की वह भौतिक अवस्था जिसका एक निश्चित आकार तथा आयतन हो ठोस कहलाता है । जैसे-  पेंसिल, लोहे की कुर्सी, बर्फ का टुकड़ा, लोहे की पाइप आदि ।

द्रव क्या है ?

 पदार्थ की भौतिक अवस्था जिसका आकार अनिश्चित तथा आयतन  निश्चित होता है द्रव कहलाता है । जैसे- पानी, डीजल, पेट्रोल, अल्कोहल आदि ।

गैस क्या है ?

पदार्थ की वह भौतिक अवस्था जिसका आयतन एवं आकार दोनों ही अनिश्चित होता है, गैस कहलाती है । जैसे- हवा, ऑक्सीजन, नाइट्रोजन आदि ।

ऐसा कौन सा पदार्थ है जो ठोस, द्रव तथा गैस तीनों अवस्थाओं में रह सकता है ?

जल एक ऐसा पदार्थ है जो तीनों भौतिक अवस्थाओं  ठोस, द्रव एवं गैस में रह सकता है ।

वे कौन से ऐसे ठोस पदार्थ हैं जिनके ताप तथा दाब में परिवर्तन करके उनकी अवस्था को नही बदला जा सकता है ?

ताप तथा दाब में परिवर्तन करके किसी भी पदार्थ की अवस्था को बदला जा सकता है परन्तु लकड़ी एवं  पत्थर ऐसे पदार्थ है जो मात्र ठोस अवस्था में ही रहते हैं

उर्ध्वपातन क्या है ?

कुछ पदार्थ गर्म करने पर सीधे ठोस अवस्था से गैस बन जाते हैं इस क्रिया को ऊर्ध्वपातन कहते हैं । जैसे- आयोडीन, कपूर आदि ।

यौगिक क्या है ?

वे शुद्ध पदार्थ जो दो या दो से अधिक तत्वों के एक निश्चित अनुपात में रासायनिक संयोग से बनते हैं, यौगिक कहलाते हैं । जैसे- जल,तांबा, जस्ता आदि ।

समांग मिश्रण क्या है ?

विभिन्न अवयवों को एक निश्चित अनुपात में मिलाने पर बने मिश्रण को समांग मिश्रण कहते हैं । जैसे- नमक का जलीय विलयन, गैस आदि ।

विषमांग मिश्रण क्या है ?

विभिन्न अवयवों को एक अनिश्चित अनुपात में मिलाने पर बने मिश्रण को विषमांग मिश्रण कहते हैं । जैसे-  कुहासा, बारूद आदि ।

पदार्थ का अवस्था परिवर्तन-

द्रवणांक क्या है ?

एक निश्चित दाब व ताप पर किसी ठोस पदार्थ को गर्म करने पर जब वह द्रव अवस्था में परिवर्तित होता है तो इस नियत ताप को द्रवणांक कहते हैं ।

बर्फ का द्रवणांक क्या  है ?

बर्फ का द्रवणांक 00 C है ।

द्रवणांक पर दाब का प्रभाव- 

(1) जिन पदार्थों का आयतन गलने पर बढ़ जाता है उन पदार्थों के द्रवणांक दाब बढ़ाने से बढ़ जाते हैं । जैसे- मोम, तांबा आदि ।

(2) जिन पदार्थों का आयतन गलने पर घट जाता है उन अपराधों के द्रवणांक दाब बढ़ाने से घट जाते हैं । जैसे- ढलवां लोहा, बर्फ आदि ।

वाष्पीकरण क्या है ?

किसी द्रव के वास्तव में बदलने की क्रिया वाष्पीकरण कहलाती है । वाष्पीकरण दो प्रकार का होता है- वाष्पन तथा क्वथनांक ।

वाष्पन क्या है ?

क्वथनांक से कम तापमान पर द्रव के वाष्पन में बदलने की क्रिया को वाष्पन कहते हैं ।

वाष्पन की क्रिया निम्नांकित बातों पर निर्भर करती है-

  • ताप अधिक होने पर वाष्पन बढ़ता है तथा ताप कम होने पर वाष्पन घटता है ।
  • क्वथनांक जितना कम होता है वाष्पन की क्रिया उतनी ही अधिक तेज होती है ।
  • द्रव के खुले पृष्ठ का क्षेत्रफल अधिक होने पर वाष्पन अधिक होता है तथा क्षेत्रफल कम होने पर वाष्पन कम होता है ।
  • द्रव की पृष्ठ पर वायुदाब कम होने पर वाष्पन की गति तेज होती है ।

क्वथनांक क्या है ?

एक निश्चित दाब पर तथा नियत तापमान जिस पर कोई द्रव उबलकर द्रव अवस्था से वाष्प की अवस्था में बदल जाता है ,वह नियत ताप क्वथनांक कहलाता है ।

**  दाब बढ़ने पर क्वथनांक बढ़ता है तथा दाब घटने पर क्वथनांक घटता है ।

हिमांक क्या है ?

जब कोई द्रव एक निश्चित दाब व नियत ताप  पर ठोस में परिवर्तित हो जाता है  अर्थात जम जाता है तो इसे हिमांक कहते हैं । बर्फ का हिमांक 00 C है ।

गैसों का आचरण

चार्ल्स का नियम-   स्थिर दाब पर किसी गैस की नियत मात्रा का आयतन उसके परम ताप का अनुक्रमानुपाती होता है ।

अर्थात  T= 2730 + t0 C  (   T= परमताप , t= ताप  ) ।

बॉयल का नियम-   स्थिर ताप पर किसी गैस की नियत मात्रा का आयतन उसके दाब के व्युत्क्रमानुपाती होता है ।

आवागाद्रो का नियम-    समान ताप तथा दाब पर सभी गैसों के समान आयतन में अणुओं की संख्या समान होती है ।

**  समान ताप तथा दाब पर विभिन्न गैसो के 1 ग्राम अणु का आयतन 22.4 लीटर होता है जिसमें अणुओं की संख्या 6.022 × 1023  होती है ।

गैसों का विसरण क्या है ?

घनत्व में अन्तर होते हुए भी पृथ्वी के गुरुत्वाकर्षण शक्ति के विरुद्ध विभिन्न गैसों के आपस में मिलने जुलने की स्वाभाविक प्रक्रिया को विसरण कहते हैं ।

गैसों के विसरण का ग्राहम नियम-  

नियत ताप तथा दाब पर गैसों के विसरण की आपेक्षिक गतियां उनके घनत्व या अणुभार के वर्गमूल की व्युत्क्रमानुपाती होती है ।

घनत्व का विसरण पर क्या प्रभाव पडता है ?

घनत्व बढ़ने पर विसरण कम होता है तथा घनत्व घटने पर विसरण अधिक होता है ।

अणु क्या है

किसी तत्व का वह छोटा से छोटा कण जो स्वतंन्त्र अवस्था में रह सकता है अणु कहलाता है ।

परमाणु क्या है ?

किसी तत्व का वह छोटा से छोटा कण जो किसी रासायनिक अभिक्रिया में भाग ले सकता है परन्तु स्वतन्त्र अवस्था में नहीं रह सकता है ,परमाणु कहलाता है ।

परमाणु किन  कणों से मिलकर बना है ?

परमाणु तीन  कणों से मिलकर बना है – इलेक्ट्रान, प्रोटान तथा न्यूट्रॉन ।

→ परमाणु की कक्षा में इलेक्ट्रॉन तथा प्रोटान घूमते रहते  हैं एवं नाभिक में न्यूट्रॉन स्थिर रहता है ।

→ इलेक्ट्रॉन पर  ऋणावेश, प्रोटान पर धनावेश होता है तथा न्यूट्रॉन  उदासीन होता है ।

इलेक्ट्रान की खोज किसने किया था ?

इलेक्ट्रान की खोज जे0 जे0 थॉमसन ने किया था ।

प्रोटॉन की खोज किसने किया था ?

प्रोटॉन की खोज गोल्डस्टीन ने किया था ।

न्यूट्रॉन की खोज किसने  किया था ?

न्यूट्रॉन की खोज चैडविक ने  किया था ।

→  इलेक्ट्रॉन का द्रव्यमान 9.1095× 10-28 g  ,  प्रोटॉन का द्रव्यमान 1.6726 × 10-24 g  तथा न्यूट्रॉन का द्रव्यमान 1.6749 × 10-24 g  होता है ।

→ इलेक्ट्रॉन पर आवेश – 1 , प्रोटॉन पर + 1 तथा न्यूट्रॉन पर आवेश शून्य होता है ।

- Advertisement - Disney + Hotstar  [CPS] IN