Monday, September 21, 2020
Home Blog उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा कोरोना वाइरस (COVID-19) से बचाव हेतु किये जा...

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा कोरोना वाइरस (COVID-19) से बचाव हेतु किये जा रहे राहत कार्य

- Advertisement -

[lwptoc]

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा कोरोना वाइरस (COVID-19) से बचाव हेतु निम्नांकित राहत कार्य किये जा रहे हैं –

  • उत्तर प्रदेश सरकार कोरोना वाइरस (COVID-19) से बचाव एवं सतर्कता को लेकर बेहद गम्भीर है, राज्य में पर्याप्त मात्रा में आइसोलेशन वार्ड उपलब्ध कराये गये हैं  जिनकी संख्या धीरे-धीरे बढाई जा रही है । उत्तर प्रदेश में कोरोना वाइरस (COVID-19) से संक्रमित पाये गये कुल 23 मरीजों में से 09 स्वस्थ होकर अपने-अपने घर जा चुके हैं शेष उपचाराधीन 14 मरीजों की हालत में काफी सुधार है । कोरोना वाइरस के खतरे को देखते हुए मांल्स, सिनेमाघर, मल्टीप्लेक्स, जिम, स्वीमिंग पुल, रेस्टोरेन्ट, स्कूल, कालेज आदि को बन्द कर दिया गया है । जनता से गैर जरूरी यात्राएं न करने, भीडभाड वाले स्थानों पर न जाने तथा दिनांक 22-03-2020 के “जनता कर्फ्यू” का पालन किये जाने की अपील की गयी है ।
  • उत्तर प्रदेश के मुख्यमन्त्री योगी आदित्यनाथ जी ने कहा है कि पूरे देश के अन्दर कोरोना वाइरस (COVID-19) अभी सेकेण्ड स्टेज है । यदि हम कोरोना वाइरस को इस स्टेज पर रोंकनें में सफल हो जाते हैं तो यह पूरे विश्व के लिए एक बडा संदेश होगा । कोरोना वाइरस (COVID-19)  को रोंकने के लिए युध्द स्तर पर कार्यवाही की जा रही है । प्रत्येक जिला अस्पताल एवं मेडिकल कालेज में आइसोलेशन वार्ड बनाये गये हैं । कोरोना वाइरस से घबराने की जरूरत नही बल्कि इस चुनौती से लडने के लिए खुद को तैयार करने की जरुरत है । बचाव पक्ष सबसे अधिक महत्वपूर्ण है ।
  • उत्तर प्रदेश के मुख्यमन्त्री योगी आदित्यनाथ जी ने कहा है कि उत्तर प्रदेश सरकार, प्रदेश के 35 लाख मजदूरों को भरण-पोंषण के लिए एक-एक लाख रुपये डीबीटी के माध्यम से उनके खाते में भेजेगी । मनरेगा मजदूरों का तत्काल भुगतान किया जायेगा । अन्त्योदय योजना, मनरेगा तथा श्रम विभाग में पंजीकृत निर्माण श्रमिक और दिहाडी मजदूरों जिनकी कुल संख्या लगभग 1.65 करोंड है, इनको माह अप्रैल,2020 में निःशुल्क राशन ( 20 किलोग्राम गेहूं तथा 15 किलोग्राम चावल ) उपलब्ध कराया जायेगा ।
  • उत्तर प्रदेश के मुख्यमन्त्री योगी आदित्यनाथ जी ने कहा है कि प्रदेश के अन्दर श्रम विभाग में 20.37 लाख पंजीकृत श्रमिकों को भरण-पोंषण के लिए एक-एक हजार रुपये उनके एकाउण्ट में डी0बी0टी0 के माध्यम से भेजा जायेगा । जिन श्रमिकों के खाते नही खुले हैं, शीघ्र ही उनके खाते खुलवा कर “लेबर सेस फण्ड” से उनके खाते में भी एक-एक हजार रूपये प्रतिमाह डी0बी0टी0 के माध्यम से भेजा जायेगा ।
  • उत्तर प्रदेश के मुख्यमन्त्री योगी आदित्यनाथ जी ने कहा है कि प्रदेश के अन्दर खोमचा, ठेला, रेंहडी तथा रिक्शा चालक तथा साप्ताहिक बाजार आदि का कार्य करने वालों का कुल संख्या लगभग 15 लाख है । इनके भरण-पोंषण के लिए एक-एक हजार रुपये प्रतिमाह इनके एकाउण्ट में डी0बी0टी0 के माध्यम से भेजा जायेगा ।
  • उत्तर प्रदेश के मुख्यमन्त्री योगी आदित्यनाथ जी ने कहा है कि शहरी क्षेत्र में ऐसे दिहाडी करने वाले मजदूर जिनके पास राशन कार्ड उपलब्ध नही है, प्राथमिकता के आधार पर उनके कार्ड बनाये जाएंगे तथा उन्हें खाद्यान्न उपलब्ध कराया जायेगा ।
  • उत्तर प्रदेश के मुख्यमन्त्री योगी आदित्यनाथ जी ने कहा है कि कोरोना वाइरस के संक्रमण को रोंकने के लिए हाल ही में कुछ दिन पहले से मांल्स, सिनेमाघर, मल्टीप्लेक्स, जिम, स्वीमिंग पुल, रेस्टोरेन्ट तथा शैक्षणिक संस्थान बन्द करा दिये गये हैं जिससे प्रभावित श्रमिकों तथा कार्मिकों के हितार्थ इन बन्द इकाइयों के स्वामियों तथा नियोजकों को निर्देशित किया गया है कि वे अपने श्रमिकों तथा कार्मिकों को सभुगतान अवकाश तथा नियमित वेतन प्रदान करें ।
  • उत्तर प्रदेश के मुख्यमन्त्री योगी आदित्यनाथ जी ने कहा है कि वृध्दावस्था पेंशन, दिव्यांगजन पेंशन तथा निराश्रित विधवा पेंशन के कुल मिला कर प्रदेश में 83.83 लाख लाभार्थियों को दी जाने वाली त्रैमासिक पेंशन को दो माह की अग्रिम पेंशन अप्रैल,2020 में ही भुगतान की जायेगी । इन सब के बावजूद भी यदि कोई ऐसा असहाय व्यक्ति बच जाता है जिसके पास भरण-पोंषण की कोई व्यवस्था नही है तो सरकार उसकी भी पूरी मदद करेगी । जिलाधिकारी द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में खण्ड विकास अधिकारी एवं ग्राम पंचायत अधिकारी की समिति तथा शहरी क्षेत्रों में उप जिलाधिकारी और नगर मजिस्ट्रेट व सम्बन्धित नगर निकायों के आयुक्त एवं अधिशाषी अधिकारी की समिति की संस्तुति पर ऐसे असहाय व्यक्तियों को एक हजार रूपये प्रतिमाह की भरण-पोंषण धनराशि उपलब्ध करायी जायेगी ।
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

What is Solution In Science ?

विलयन क्या है ? यह दो या दो से अधिक पदार्थों का समांग मिश्रण है जो स्थायी एवं पारदर्शक होता है । विलेय कणों का...

अर्थशास्त्र (ECONOMICS)

अर्थशास्त्र क्या है ? सामाजिक विज्ञान की वह शाखा जिसके अंतर्गत वस्तुओं तथा सेवाओं के उत्पादन, वितरण, विनिमय एवं उपभोग का अध्ययन किया जाता है...

विशेषज्ञों की राय के मूल्यांकन के सम्बन्ध में माननीय न्यायालयों के विभिन्न निर्णय (Various Judgements of Hon,ble Courts in related valuation of Expert...

रुकमानन्द अजीत सारिया बनाम उषा सेल्स प्राइवेट लिमिटेड ए0 आई0 आर0 1991 एन0 ओ0 सी0 108 गुवाहाटी में माननीय उच्च न्यायालय द्वारा पारित निर्णय...

शिक्षाशास्त्र (PEDAGOGY)

शिक्षाशास्त्र (Pedagogy) क्या है ? शिक्षण कार्य की प्रक्रिया के भलीभांति अध्ययन को शिक्षाशास्त्र (Pedagogy) या शिक्षण शास्त्र कहते हैं । इसके अन्तर्गत अध्यापन की...
Would you like to receive notifications on latest updates? No Yes