आतंकवाद के कारण एवं रोंकने के लिए महत्वपूर्ण सुझाव

0
12
- Advertisement - Disney + Hotstar  [CPS] IN

आतंकवाद के कारण –

गरीबी, अशिक्षा, बेरोजगारी, आर्थिक तथा सामाजिक पिछड़ापन, शासन में अनावश्यक हस्तक्षेप, जिहाद के नाम पर नव युवकों का गुमराह होना, महत्त्वाकांक्षा, झुंझलाहट तथा गुस्सा आदि बढते हुए आतंकवाद के मुख्य कारण हैं ।

आतंकवाद रोकने के लिए कतिपय सुझाव –

  • रेडियो, टेलीविजन, प्रेस आदि माध्यमों से आम जनता को सुरक्षा के प्रति सचेत किया जाए कि बम तथा आतंकवादी हथियारों को कैसे पहचाने एवं सन्देहात्मक वस्तु दिखाई देने पर क्या करें, पुलिस को किस प्रकार और किस माध्यम से शीघ्रातिशीघ्र सूचना दें ।
  • आतंकवाद के विरुद्ध जनमत तैयार किया जाए जिससे आतंकवाद से लड़ने में आम जनता का सहयोग मिल सके तथा आतंकवाद के विरुद्ध लड़ाई आसान एवं प्रभावी हो सके ।
  • आतंकवादी संगठनों तथा गुटों को मदद देने वाले अराजक / आपराधिक तत्वों की पहचान कर उनके विरूद्ध कड़ी कार्यवाही की जाए ।
  • आतंकवादी संगठनों तथा गुटों को देश विदेश से मिलने वाली आर्थिक सहायता पर शत-प्रतिशत रोंक लगाई जाय ।
  • बेरोजगार नवयुवकों को रोजगार उपलब्ध कराया जाए ताकि वह अपने व अपने परिवार का जीविकोपार्जन कर सकें तथा आतंकवादी संगठनों या गुटों से न जुड़ें ।
  • सीमा पार से होने वाली तस्करी तथा अस्त्र- शस्त्र की आपूर्ति पर पूर्णतया रोंक लगाई जाय ।
  • आतंकवाद के विरुद्ध लड़ाई में लगे पुलिस एवं सुरक्षा बलों को आतंकवादियों द्वारा प्रयोग किए जाने वाले हथियारों से अधिक उच्चकोटि के हथियार प्रदान किए जाएं तथा प्रशिक्षित किया जाए ताकि वे आतंकवाद का डटकर मुकाबला कर सकें ।
  • रेलवे स्टेशनों, ट्रेनों, हवाई अड्डों तथा हवाई जहाजों की सुरक्षा सुदृढ़ की जाय ।
  • रेलवे स्टेशनों, ट्रेनों, हवाई अड्डों तथा हवाई जहाजों पर आने-जाने तथा सफर करने वाले यात्रियों की सघन चेकिंग की जाय तथा इस चेकिंग में जनता द्वारा पुलिस एवं सुरक्षा बलों का पूर्ण सहयोग किया जाए ।
  • आतंकवाद को पनाह देने वाले राष्ट्र पाकिस्तान को बेनकाब करने के लिए चौतरफा दबाव की आवश्यकता है ।
  • एन0एस0जी0 का आधुनिकीकरण किया जाए ।
  • खुफिया तन्त्र का अपग्रेडेशन किया जाए ।
  • भारत को बड़े आतंकवादी हमलों से बचने के लिए एक समग्र आन्तरिक सुरक्षा व्यवस्था की जरूरत है अर्थात् घरेलू मोर्चे की सुरक्षा अहम हो चुकी हैं, जिसे सुदृढ़ किए जाने की आवश्यकता है ।
  • भारत के अति महत्वपूर्ण महानगरों जैसे- दिल्ली, मुंबई, मद्रास, कोलकाता की सुरक्षा के लिए सुरक्षा के ऐसे कवच का निर्माण किया जाय कि वह किसी भी प्रकार की आपात स्थिति में आतंकवाद से निपटने के लिए सक्षम हो सकें ।
  • बच्चों के लिए सभी सरकारी / अर्ध सरकारी / प्राइवेट स्कूलों, कालेजों व संस्थानों में योग, सैन्य एवं राष्ट्रभक्ति की शिक्षा अनिवार्य कर दी जाय जिससे वे शारीरिक व मानसिक रूप से पूर्णतया स्वस्थ हों एवं उनमें राष्ट्र प्रेम की भावना व्याप्त हो ।
- Advertisement - Disney + Hotstar  [CPS] IN