Miscellaneous

भारत में 5G (5G in India)

भारत में (5 in )

5G का अर्थ है Fifth Generation. अभी तक हम मोबाइल फोन नेटवर्क की चार जनरेशन (1G, 2G, 3G तथा 4G) का उपयोग कर चुके हैं तथा वर्तमान में चौथी जनरेशन मोबाइल फोन नेटवर्क (4G) का उपयोग कर रहें हैं। भारत में चौथी जनरेशन यानी 4G नेटवर्क चल रहा है जिसका विस्तार अभी तक नही हो पाया है तथा 4G नेटवर्क का विस्तार हो रहा है। 5G मोबाइल फोन नेटवर्क की पांचवी जनरेशन है। विश्व के कुछ देश कुछ देश वर्तमान समय में 5G नेटवर्क लान्च करने की तैयारी कर रहे हैं।

जापान में 5G नेटवर्क काफी विकसित है। वर्तमान में जापान 6G नेटवर्क वर्ष 2030 ई0 तक लान्च करने की दिशा में कार्य कर रहा है। हमारे पड़ोसी तथा विश्व की नम्बर दो की अर्थव्यवस्था चीन की चाइना मोबाइल कम्यूनिकेशन कार्पोरेशन एण्ड हुबई टेक्नालाजी लिमिटेड 5G नेटवर्क के अन्तिम चरण पर तेजी से कार्य कर रही हैं। दक्षिण कोरिया का 4G नेटवर्क काफी तेज है जो कि 5G नेटवर्क लान्च करने की दिशा में कार्यशील है जिसके द्वारा शीघ्र ही 5G नेटवर्क लांल्च किए जाने की संभावना है।

5G नेटवर्क टोक्नालाजी की इण्टरनेट स्पीड 20 गीगाबाइट प्रति सेकेण्ड होगी जिसके कारण टच करते ही एक मिली सेकेण्ड से भी कम समय में ही बेवपेज खुल जायेगा तथा पांच से छः सेकेण्ड में ही पूरी फिल्म डाउनलोड हो जायेगी। मोबाइल फोन की बैटरी की भी काफी बचत होगी।

5G नेटवर्क टेक्नालाजी के महत्वपूर्ण फीचर (Important feature of 5G )

5G नेटवर्क टेक्नालाजी के महत्वपूर्ण फीचर निम्नवत हैः

  1. One millisecond latency है।
  2. 100 प्रतिशत कवरेज प्रदान सरता है।
  3. High increased peak bit rate है।
  4. Per unit area अधिक data volume है।
  5. Data rate 10 GBPS से अधिक है।
  6. Energy save करने में मदद करता है।
  7. 4G नेटवर्क की तुलना में Capacity बहुत अधिक होती है।
  8. Connectivity काफी बेहतर है।
  9. 5G नेटवर्क में infrastructural विकसित करने में काफी कम लागत आती है।
  10. बैटरी लाइफ काफी लम्बी होती है।
  11. Worldwide coverage देता है।

5G से लाभ (Profit from 5G)

5G के मुख्य लाभ निम्नवत हैः

  1. 5G के माध्यम से सभी नेटवर्क को एक ही प्लेटफार्म पर ला सकते हैं।
  2. 5G नेटवर्क टेक्नालाजी का डाउनलोड तथा अपलोड गति बहुत अधिक है जिसके कारण किसी फाइल को सरलता एवं कम समय में डाउनलोड तथा अपलोड किया जा सकता है।
  3. 5G नेटवर्क काफी प्रभावशाली है।
  4. 5G नेटवर्क Worldwide coverage देता है।
  5. 10 GBPS की गति मिल सकती है।

 5G से हानि (Loss from 5G)

  1. 5G टेक्नालाजी के साथ काफी डिवाइसें नही हैं जिसके कारण उन्हें बदलना पड़ेगा।
  2. Infrastructure विकसित करने में काफी धन खर्च होगा।

भारत मोबाइल नेटवर्क में अभी काफी पीछे है जो कि अपने देश में अभी तक 4G का ही नेटवर्क नही विकसित कर पाया है तथा 4G नेटवर्क ही विकसित करनें में लगा हुआ है। ऐसी स्थिति में भारत में 5G नेटवर्क आने में अभी वक्त लगेगा। भारत में 5G मोबाइल नेटवर्क लान्च करने की दिशा में भारत की मोबाइल कम्पनी रिलायन्स जियो तथा एयरटेल कार्यशील है। रिलायन्स जियो कम्पनी के चेयरमैन तथा मैनेजिंग डायरेक्टर मुकेश अम्बानी ने यह खुलासा किया है कि वर्ष 2021 की दूसरी छमाही में भारत में 5G सेवा रोलआउट कर दी जायेगी। रिलायन्स जियो 5G सेवा के लिए गूगल के साथ मिलकर 5G सस्ते एवं किफायती एण्ड्रायड माबाइल फोन लान्च करने की दिशा में भी कार्य कर रहा है तथा शीघ्र सस्ता एवं किफायती 5G एण्ड्रायड फोन लांन्च होने की संभावना है।

5G टेक्नालाजी का निर्माण जिस प्रकार से किया जा रहा है उससे यह बात स्पष्ट है कि 5G वर्तमान एल0 टी0 ई0 नेटवर्क पर काम कर सकेगा तथा एक अनुमान के मुताबिक वर्ष 2025 ई0 तक 5G नेटवर्क से विश्व की लगभग एक तिहाई आबादी को कवरेज मिल जायेगा। भारत में अभी 4G का भी नेटवर्क काफी कमजोर है। भारत में 5G नेटवर्क आने में अभी वक्त लगेगा।

Related Articles

Back to top button
The Knowledge Gateway Would you like to receive notifications on latest updates? No Yes

AdBlock Detected

Please Consider Supporting Us By Disabling Your AD Blocker