Miscellaneous

कोरोना वायरस (CORONA VIRUS)

कोरोना वायरस (CORONA VIRUS)

लैटिन भाषा में कोरोना का अर्थ “मुकुट’ होता है जिसकी संरचना मुकुट के समान होती है। कोरोना वायरस ऐसे कई प्रकार के वायरसों का एक समूह है जो स्तनधारियों तथा पक्षियों में रोग के कारक होते हैं। कोरोना वाइरस मनुष्यो में श्वास संक्रमण के कारक होते हैं जो कभी-कभी जानलेवा भी हो जाते हैं। कोरोना वाइरस को नोवेल कोरोना वाइरस भी कहा जाता है। कोरोना वायरस गाय तथा सूअर में अतिसार तथा मुर्गियों में श्वास तन्त्र के कारक बनते हैं। कोरोना वाइरस की रोंकथाम के लिए अभी तक कोई वैक्सीन निर्मित नही हो पाई है। कोरोना वाइरस संक्रमण के उपचार के लिए अभी तक मनुष्य मात्र अपनी प्रतिरक्षा प्रणाली पर निर्भर है तथा अपनी प्रतिरक्षा प्रणाली को विकसित करके इस घातक एवं संक्रामक वाइरस से बचा जा सकता है।

कोरोना वायरस की उत्पत्तिः

स्वाइन फ्लू की तरह कोरोना वायरस की उत्पत्ति भी जानवरों से ही हुई है। चीन के प्रसिध्द शहर वुहान में स्थित हुआनन सीफूड होलसेल मार्केट में जाकर जीवित या नवबध किए गए जानवरों को खरीदने व बेंचने का व्यवसाय करने वाले लोग ही सर्वप्रथम कोरोना वायरस से संक्रमित हुए। इसके बाद कोरोना वाइरस का प्रसार सम्पूर्ण चीन, अन्य देशों तथा सम्पूर्ण विश्व में हो गया।

कोरोना वाइरस एक घातक महामारीः

विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार कोरोना वाइरस एक घातक महामारी को रूप ले चुका है। विश्व का कोई भी देश इस वाइरस से अछूता नही है अर्थात यह विश्व के सभी देशों में फैल चुका है।

कोरोना वायरस से प्रभावित देशः

कोरोना वाइरस से सर्वप्रथम चीन प्रभावित हुआ। इसके बाद यह धीरे-धीरे सम्पूर्ण विश्व में फैल गया। कोरोना वाइरस से सर्वाधिक प्रभावित देश अमेरिका, चीन, भारत, रूस, कनाडा, इटली, ईराक, ईरान, जापान, मकाऊ तथा दक्षिण कोरिया हैं।

भारत में कोरोना वायरस का पहला मामला प्रसिध्द शहर मोहाली में आया था जिसके बाद भारतीय स्वास्थ्य विभाग सक्रिय हो गया तथा भारतीय प्रधानमन्त्री द्वारा अपनी दूरदर्शिता एवं सूझबूझ का परिचय देते हुए 25 मार्च 2020 से भारत के कुछ भागो में तथा 27 मार्च 2020 से सम्पूर्ण भारत में लाक डाउन लागू कर दिया गया। सम्पूर्ण भारत 67 दिनों तक लाक डाउन रहा । स्थिति नियन्त्रण मे होने पर धीरे-धीरे-धीरे लाक डाउन में ढील दी गयी तथा लाक डाउन हटाया गया। भारत में कोरोना वाइरस से सर्वाधिक प्रभावित राज्य मुम्बई रहा। सम्पूर्ण भारत के लगभग 35 से 40 प्रतिशत कोरोना मरीज मुम्बई में ही पाये गये। भारत में अब तक 94 लाख 99 हजार से अधिक लोग कोरोना वाइरस से प्रभावित हो चुके है जिनमें से 1 लाख 38 हजार से अधिक लोगों की मृत्यु हो चुकी है, 89 लाख 31 हजार से अधिक लोग स्वस्थ हो चुके हैं तथा 4 लाख 27 हजार से अधिक लोग विभिन्न अस्पतालों में उपचाराधीन है।

विश्व में अब तक 6 करोंड़ 35 लाख 89 हजार से अधिक लोग कोरोना वाइरस से प्रभावित हो चुके है जिनमें से 14 लाख 73 हजार से अधिक लोगों की मृत्यु हो चुकी है तथा लगभग 4 करोंड़ 40 लाख लोग स्वस्थ हो चुके है। सम्पूर्ण विश्व में वर्तमान मे लगभग 7 लाख से अधिक नये लोग प्रतिदिन संक्रमित हो रहे है। विश्व में कोरोना वाइरस से सर्वाधिक प्रभावित देश अमेरिका है जहां पर अब तक 1 करोंड़ 39 लाख 19 हजार से अधिक लोग संक्रमित हो चुके है जिनमें से 2 लाख 74 हजार से अधिक लोगों की मृत्यु हो चुकी है। संक्रमित लोगों की संख्या के अनुसार कोरोना वाइरस से सर्वाधिक संक्रमित देश भारत है जहां पर अब तक 94 लाख 99 हजार से अधिक लोग कोरोना वाइरस से प्रभावित हो चुके है जिनमें से 1 लाख 38 हजार से अधिक लोगों की मृत्यु हो चुकी है, 89 लाख 31 हजार से अधिक लोग स्वस्थ हो चुके हैं तथा 4 लाख 27 हजार से अधिक लोग विभिन्न अस्पतालों में उपचाराधीन है।

कोरोना वायरस संक्रमण के लक्षणः

कोरोना वायरस संक्रमण के लक्षण स्वाइन फ्लू के लक्षण से मिलते –जुलते हैं। नाक बहना, जुकाम, दस्त, बुखार, सांस लेने में तकलीफ, सिर में दर्द, निमोनिया, ब्रांकाइटिस और गले में खरास जैसी समस्याएं कोरोना वायरस के संक्रमण के लक्षण हैं ।

कोरोना वायरस से संक्रमित व्यक्ति का इलाजः

भारत तथा विश्व के  अस्पतालों में कोरोना वाइरस के विभिन्न लक्षणों (जैसे- जुकाम, दस्त, बुखार, सांस लेने में तकलीफ, सिर में दर्द, निमोनिया, ब्रांकाइटिस और गले में खरास आदि) का उपचार  किया जाता है जिससे कोरोना वायरस से संक्रमित व्यक्ति की संक्रमण से लडते हुए रोग प्रतिरोधक शक्ति बढ़ जाती है तथा मरीज स्वस्थ हो जाते है।

वैक्सीन की खोजः

विश्व के लगभग सभी देश कोरोना वाइरस नामक घातक महामारी से निपटने के लिए निरन्तर कोरोना वाइरस वैक्सीन की खोज में लगे हुए है परन्तु अभी तक  कोरोना वाइरस की वैक्सीन नही खोजी जा सकी है।

कोरोना वायरस से बचने के लिए विश्व स्वास्थ्य संगठन की सलाहः

कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए विश्व स्वास्थ्य संगठन ने लोगों को निम्नलिखित सलाह दी हैः

  • कोरोना वाइरस से बचने के लिए अपने हाथों को साबुन से अच्छी तरह धोएं।
  • कोरोना वाइरस से बचने के लिए छींकते या खांसते समय मुख को साफ कपडे से ढंक कर रखें।
  • कोरोना वाइरस से बचने के लिए जिन्दा जंगली या पालतू जानवरों के सम्पर्क से दूर रहें।
  • मास्क का नियमित प्रयोग करें।
  • सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें।

कोरोना वायरस से पालतू जानवरों को भी संक्रमण का खतराः

कोरोना वायरस से पालतू जानवर जैसे- कुत्ता, बिल्ली, बन्दर, घोड़े आदि भी संक्रमित हो सकते हैं। पैंट्रोपिक कैनाइन कोरोना वायरस से कुत्ते तथा बिल्ली संक्रमित हो सकते हैं।

कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के अत्यन्त महत्वपूर्ण उपायः

  • कोरोना वायरस एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैलता है अर्थात् संक्रामक है इससे बचाव के लिए बेहद सावधानी जरूरी है । कोरोना वायरस का खतरा समाप्त होने तक सीफूड से दूर रहें।
  • कोरोना वायरस से बचने के लिए साफ-सफाई परम आवश्यक है।
  • कहीं बाहर से आने या कुछ भी खाने से पहले अपने दोनों हाथों को साबुन या अल्कोहल युक्त हैंड रब से अच्छी तरह साफ कर के साफ कपडे से पोंछ लें।
  • यथासम्भव अपने पास हैंण्ड सेनिटाइजर रखा जाय।
  • अस्पताल में या घर पर मरीजों की देखभाल के दौरान अपनी सुरक्षा व साफ- सफाई पर विशेष दें।
  • छींकते या खांसते समय अपनी नाक व मुंह को साफ कपडे से ढंक लें।
  • खांसते या छींकते हुए अपनी नाक और मुह को साफ कपडे या मास्क से ढंक कर रखें ।
  • सर्दी या फ्लू लक्षण से युक्त लोगों के सम्पर्क में आने से बचें।
  • मीट या अण्डों को अच्छी तरह से पका कर खाएं।
  • जंगली तथा खेतों में रहने वाले जानवरों के असुरक्षित सम्पर्क से बचें।
  • भीड-भाड वाले स्थानों पर जाने से बचें।
  • संक्रमित क्षेत्र से सफर कर लौटे व्यक्तियों के सम्पर्क में आने से बचें।
  • सब्जी और फलों को खाने से पहले अच्छी तरह से अवश्य धुलें।
  • जिन देशों या स्थानों पर कोरोना वाइरस बीमारी का प्रकोप फैला है, वहां यात्रा करने से बचें।
  • सार्वजनिक स्थानों या सार्वजनिक यातायात के साधनों को यथासम्भव छूने से बचें।
  • किसी से हाथ मिलाने से बचें।
  • भर से बाहर निकलने पर मास्क, सैनिटाइजर तथा ग्लब्स का प्रयोग अवश्य करें।
  • सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें।

Related Articles

Back to top button
Would you like to receive notifications on latest updates? No Yes

AdBlock Detected

Please Consider Supporting Us By Disabling Your AD Blocker