Miscellaneous

मानव मस्तिष्क (Human Brain)

मानव मस्तिष्क (Human Brain)

मस्तिष्क मनुष्य की खोंपड़ी में स्थित हैं जो अस्थियों के क्रोनियम नामक खोल में बन्द रहता है। क्रोनियम खोल बाह्य आधात से मस्तिष्क की रक्षा करती है। मनुष्य के मस्तिष्क का वजन करीब 1400 ग्राम होता है। मनुष्य के मस्तिष्क में लगभग एक अरब तन्त्रिका कोशिकाएं होती हैं। मस्तिष्क मनुष्य की सम्पूर्ण इच्छाओं, बुध्दिमत्ता, चेतना, आचरण, तर्क शक्ति, अनुभव, व्यक्तित्व, स्मरण शक्ति, मन, अनुभव, विचार आदि का केन्द्र बिन्दु है जो इनका नियमन तथा नियन्त्रण करता है। मानव शरीर के सम्पूर्ण अंगों का नियमन तथा नियन्त्रण मस्तिष्क ही करता है। मस्तिष्क मानव शरीर का संचालक है जिसे मानव शरीर का प्रबन्धक भी कहा जाता है।

मस्तिष्क की संरचना (Brain Structure)

मानव मस्तिष्क के तीन भाग- अग्र मस्तिष्क (Fore Brain), मध्यमस्तिष्क (Mid-brain) तथा पश्चमस्तिष्क (Hind brain) हैं।
अग्रमस्तिष्क (Fore Brain) के दो भाग- प्रमस्तिष्क (Cerebrum) तथा डायनसेफेलान हैं। प्रमस्तिष्क (Cerebrum) मनुष्य के मस्तिष्क का सबसे बड़ा भाग है जो दो प्रमस्तिष्क गोलार्धों-(1) बायां प्रमस्तिष्क गोलार्ध (2) दायां प्रमस्तिष्क गोलार्ध में बंटा है जो खोखला होता है। प्रमस्तिष्क गोलार्धों का बाह्य क्षेत्र प्रमस्तिष्क वल्कुट तथा आन्तिरक क्षेत्र जो तन्त्रिकाक्ष रेशों का बना होता है, श्वेत द्रव्य कहलाता है तथा गोलार्धों के अन्दर का खाली भाग पार्श्व निलय कहलाता है। बायां प्रमस्तिष्क गोलार्ध कपाल में बायीं तरफ तथा दायां प्रमस्तिष्क गोलार्ध कपाल में दाहिनी तरफ सामने ललाट से कपाल के अन्त तक फैला होता है। उक्त बायां प्रमस्तिष्क गोलार्ध तथा दायां प्रमस्तिष्क गोलार्ध कार्पस कैलोमस नामक तन्त्रिका रेशों से आपस में जुड़े होते हैं। प्रमस्तिष्क के नीचे स्थित डाइएनसिफेलान के दो भाग थैलमस (Thalamus) तथा हाइपोथैलमस हैं। थैलमस (Thalamus) के नीचे हाइपोथैलमस स्थित है तथा हाइपोथैलमस के नीचे पीयुष ग्रन्थि पायी जाती है।
मध्य मस्तिष्क (Mid-brain) मनुष्य के मस्तिष्क का सबसे छोटा भाग हैं। मस्तिष्क का यह भाग अग्र मस्तिष्क तथा पश्च मस्तिष्क के मध्य स्थित है जिसका आकार नलिकाकार होता है। मध्य मस्तिष्क के दो भाग- कारपोरा क्वार्डीजेमिना तथा प्रमस्तिष्क वृन्तक है। कारपोरा क्वार्डीजेमिना  मध्य मस्तिष्क की पिण्डाकर संरचना है जो कि चार पिण्डों में विभाजित होती है जिसमें से ऊपर के दो पिण्डों को टेक्टम तथा नीचे के दो पिण्डों को टेगमेन्टम कहा जाता है। प्रमस्तिष्क वृन्तक तन्तुओं का एक बण्डल है जो कि मस्तिष्क के उक्त चारों पिण्डों (टेक्टम तथा टेगमेन्टम) कों तथा प्रमस्तिष्क वल्कुट को मस्तिष्क के अन्य भागों एवं मेरुरज्जु से जोड़ता है।
पश्चमस्तिष्क (Hind brain) मनुष्य के मस्तिष्क का दूसरा सबसे बड़ा भाग है। पश्चमस्तिष्क (Hind brain) के तीन भाग अनुमस्तिष्क (Cerebellum), मेड्यूला आंवलागेटा तथा पोन्स हैं। प्रमस्तिष्क (Hind brain) का सबसे बड़ा भाग अनुमस्तिष्क (Cerebellum) है जिसका वल्कुट भाग (Cortex) धूसर द्रव्य से बना होता है। मेड्यूला आंवलागेटा पश्चमस्तिष्क (Hind brain) तथा मस्तिष्क (Brain) का अन्तिम भाग है। मेड्यूला आंवलागेटा मेरुरज्जु से जुड़ा रहता है।
पोन्स में न्यूमोटेक्सिन सेन्टर नाम की संरचना पायी जाती है। न्यूमोटेक्सिन सेन्टर श्वास का विनियमन (Regulation of breathing) करता है।

मस्तिष्क के कार्य (Brain functions)

1.      प्रमस्तिष्क वल्कुट मानव शरीर में ऐच्छिक पेशी  संकुचन को आरम्भ एवं नियन्तित (Start and control) करता है तथा मानसिक कार्य (जैसे- किसी चीज को सोचना, याद रखना, तर्क करना आदि) करता है।
2.      प्रमस्तिष्क वल्कुट मनुष्य के शरीर के संवेदी अंगो ( जैसे- आंख, नाक, कान आदि) से आने वाली सूचनाएं ग्रहण कर उन सूचनाओं पर कार्यवाही (action) करता है।
3.      प्रमस्तिष्क का दाहिना भाग मानव शरीर के बायें भाग तथा प्रमस्तिष्क का बायां भाग मानव शरीर के दाहिने भाग को नियन्त्रित (controlled) करता है।
4.      मानव मस्तिष्क का थैलमस मानव शरीर के प्रमस्तिष्क को जाने वाले संवेदी आवेगों (जैसे- आनन्द, सुख, पीड़ा आदि) का प्रसारण (broadcasting) करता है।
5.      मानव मस्तिष्क का हाइपोथैलमस भाग मानव शरीर के पीयुष ग्रन्थि से स्रावित हार्मोन को नियन्त्रित (controlled) करता है।
6.      मानव मस्तिष्क का हाइपोथैलमस सम्पूर्ण मानव शरीर का तापमान (temperature) नियन्त्रित करता है।
7.      मानव मस्तिष्क का हाइपोथैलमस नामक भाग मनुष्य के व्यवहार ( जैसे- कामवासना, घृणा, खुशी, क्रोध, खान-पान आदि) नियन्त्रित करता है।
8.      मानव मस्तिष्क का टेक्टम नामक भाग मनुष्य को देखने में मदद (help) करता है।
9.       मानव मस्तिष्क का टेगमेन्टम नामक भाग मनुष्य को सुनने में मदद (help) करता है।
10.  अनुमस्तिष्क (Cerebellum) मानव शरीर का सन्तुलन (balanced of human body) बनाता है।
11.  अनुमस्तिष्क (Cerebellum) मानव शरीर की पेशीय क्रियाओं में समन्वय (co-ordination) स्थापित करता है।
12.  मानव मस्तिष्क का मेड्यूला आंवलागेटा  मानव शरीर की विभिन्न अनैच्छिक क्रियाओं (जैसे- उल्टी होना, लार आना आदि) को नियन्त्रित करता है तथा पोन्स मानव शरीर में श्वसन दर नियन्त्रण का कार्य (Functions of respiratory rate control) करता है।

Related Articles

Back to top button
Would you like to receive notifications on latest updates? No Yes

AdBlock Detected

Please Consider Supporting Us By Disabling Your AD Blocker