Miscellaneous

कोविड-19 का विश्व की अर्थव्यवस्था पर प्रभाव (Impact on Covid19 on World Economy)

कोविड-19 का विश्व की अर्थव्यवस्था पर प्रभाव (Impact on Covid 19 on World Economy)

संयुक्त राज्य अमेरिका विश्व की प्रथम तथा चीन विश्व की दूसरी सबसे बडी अर्थव्यवस्था है। चीन विश्व का सबसे बड़ा निर्यातक देश है जो कि विश्व के तमाम देशों को विभिन्न वस्तुओं / उत्पादों का निर्यात करता है। कोविड-19 की उत्पत्ति दिसम्बर 2019 में चीन के प्रमुख शहर वुहान से मानी जाती है जो कि धीरे-धीरे विश्व के 191 देशों में फैल गया तथा देखते ही देखते वैश्विक महामारी का रूप धारण कर लिया तथा वैश्विक महामारी बनकर सम्पूर्ण विश्व के लिए चुनौती बन गया। कोरोना वाइरस (कोविड-19) से विश्व भर में अब तक 8,19,96,887 लोग संक्रमित हो चुके हैं जिनमें से 17,89,293 लोगों की मृत्यु हो चुकी है। कोरोना वाइरस से विश्व का सबसे अधिक प्रभावित देश संयुक्त राज्य अमेरिका है जहां पर अब तक 1,95,57,275 लोग संक्रमित हो चुके हैं जिसमें से 3,38,561 लोगों की मृत्यु हो चुकी है। कोरोना वाइरस (कोविड-19) से विश्व का दूसरा सबसे अधिक प्रभावित देश भारत है जहां पर अब तक एक करोंड़ दो लाख से अधिक लोग संक्रमित हो चुके हैं तथा एक लाख अड़तालिस हजार से अधिक लोगों की मृत्यु हो चुकी है । विगत 24 घण्टे में 285 लोगों की मृत्यु हो चुकी है।

कोरोना वाइरस वैश्विक महामारी के कारण 25-03-2020 से लगातार 67 दिनों के सम्पूर्ण भारत (विश्व की छठवीं बड़ी अर्थव्यवस्था) लाकडाउन के कारण सेवा, उत्पाद तथा निर्माण क्षेत्र बुरी तरह प्रभावित हुए जिसके कारण वित्तीय वर्ष 2020-21 की प्रथम तिमाही में भारत की जी0 डी0 पी0 ग्रोथ में वर्ष 1996 ई0 के बाद की सबसे बड़ी गिरावट आ गई तथा जी0 डी0 पी0 ग्रोथ -23.9 प्रतिशत हो गई। भारतीय रिजर्व बैंक के अनुसार वित्तीय वर्ष 2020-21 में भारत की जी0 डी0 पी0 -7.5 रहने का अनुमान है। भारत की अर्थव्यवस्था को माइनस से प्लस में आने में काफी समय लगेगा। भारत एशिया महाद्वीप का पहला ऐसा देश रहा जिसकी जी0 डी0 पी0 ग्रोथ सबसे अधिक बुरी तरह प्रभावित रही।

कोविड-19 (कोरोना वाइरस) वैश्विक महामारी के कारण अमेरिका (विश्व की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था) भी काफी बुरी तरह प्रभावित हुई।  वर्ष 2020 ई0 की प्रथम तिमाही में अमेरिकी अर्थव्यवस्था में 9.1 प्रतिशत की गिरावट आयी जो कि वर्ष 2014 के बाद की सबसे बड़ी गिरावट हैं।

चीन विश्व का एकमात्र ऐसा देश हैं जिसकी जी0 डी0 पी0 कोविड-19 वैश्विक महामारी से प्रभावित तो हुई परन्तु चीन की जी0 डी0 पी0 ग्रोथ प्लस में ही रही, माइनस में नही आयी। चीन इस महामारी से उबर रहा है। कोविड-19 वैश्विक महामारी से प्रभावित चीन की जी0 डी0 पी0 ग्रोथ में वर्ष 1992 ई0 के बाद पहली बार सबसे अधिक मन्दी आई है जब  जी0 डी0 पी0 ग्रोथ में वर्ष 2020 की प्रथम तिमाही में 6.8 प्रतिशत की रिकार्ड गिरावट आई परन्तु चीन ने अपनी अक्ल से स्वयं को सम्भाल लिया तथा दूसरी तिमाही में जी0 डी0 पी0 ग्रोथ में 3.2 प्रतिशत की वृध्दि हो गई। चीन विश्व का वह पहला देश है जो कोरोना वाइरस से सबसे पहले बुरी तरह प्रभावित हुआ तथा जी0 डी0 पी0 ग्रोथ प्रभावित होने पर सबसे पहले अगली तिमाही में ही स्वयं को सम्भाल लिया जिसका मुख्य कारण यह था कि उसने पूर्ण लाकडाउन मात्र वुहान में ही लगाया था अन्य क्षेत्रों मे पूर्ण लाकडाउन नही लगाया था।

कोविड-19 (कोरोना वाइरस) वैश्विक महामारी के कारण ब्रिटेन में सेवा, उत्पाद तथा निर्माण क्षेत्र बुरी तरह प्रभावित हुए जिसके कारण जी0 डी0 पी0 ग्रोथ में वर्ष 2020 की पहली तथा दूसरी तिमाही मे लगातार गिरावट आयी तथा दूसरी तिमाही में 21.7 प्रतिशत की रिकार्ड गिरावट आ गयी।

कोविड-19 (कोरोना वाइरस) वैश्विक महामारी के कारण इटली में सेवा, उत्पाद तथा निर्माण क्षेत्र ठप हो गये जिसके कारण वर्ष 1995 ई0 के बाद की सबसे बड़ी गिरावट दर्ज की गई तथा वर्ष 2020 के पहली तिमाही में ही जी0 डी0 पी0 ग्रोथ में 17.7 प्रतिशत की रिकार्ड गिरावट आयी।

कोविड-19 (कोरोना वाइरस) वैश्विक महामारी के कारण जापान में सेवा, उत्पाद तथा निर्माण क्षेत्र बुरी तरह प्रभावित होने के कारण वर्ष 2020 की दूसरी तिमाही में जी0 डी0 पी0 ग्रोथ में 9.9 प्रतिशत की गिरावट आयी।

 कोविड-19 (कोरोना वाइरस) वैश्विक महामारी के कारण फ्रांस में सेवा, उत्पाद तथा निर्माण क्षेत्र बुरी तरह प्रभावित हुए जिसके कारण वर्ष 2020 की दूसरी तिमाही में जी0 डी0 पी0 ग्रोथ में 18.9 प्रतिशत की गिरावट आयी।

कोविड-19 (कोरोना वाइरस) वैश्विक महामारी के कारण जर्मनी में सेवा, उत्पाद तथा निर्माण क्षेत्र बुरी तरह प्रभावित हुए जिसके कारण वर्ष 2020 की दूसरी तिमाही में जी0 डी0 पी0 ग्रोथ में .3 प्रतिशत की गिरावट आयी।

कोविड-19 (कोरोना वाइरस) वैश्विक महामारी के कारण कनाडा में सेवा, उत्पाद तथा निर्माण क्षेत्र बुरी तरह प्रभावित होने के कारण वर्ष 2020 की प्रथम  तिमाही में जी0 डी0 पी0 ग्रोथ में 13 प्रतिशत की गिरावट आयी।

Related Articles

Back to top button
The Knowledge Gateway Would you like to receive notifications on latest updates? No Yes

AdBlock Detected

Please Consider Supporting Us By Disabling Your AD Blocker