BiologyBiologyBiologyBiologyBiology

पारिस्थितिकी (ECOLOGY)

Table Of Contents Hide
1 पारिस्थितिकी (ECOLOGY)

पारिस्थितिकी ()

∙ पारिस्थितिकी क्या है ?

जीव वि की वह शाखा जिसके अन्तर्गत जीवधारियों तथा उनके वातावरण के पारस्परिक सम्बन्धों का अध्ययन किया जाता है पारिस्थितिकी कहलाती है।

∙ जैविक समुदाय क्या है?

एक निश्चित भौगोलिक क्षेत्र में निवास करने वाली विभिन्न समष्टियों को जैविक समुदाय कहते हैं।

∙ पारिस्थितिकी क्या है?

रचना एवं कार्य की दृष्टि से विभिन्न जीवों तथा वातावरण की मिली-जुली इकाई को पारिस्थितिकी तन्त्र कहते हैं।

∙ सर्वाधिक स्थाई पारिस्थितिकी तन्त्र कौन है?

सर्वाधिक स्थाई पारिस्थितिकी तन्त्र महासागर है।

∙ पारिस्थितिकी तन्त्र शब्द का सर्वप्रथम प्रयोग किसने किया था?

पारिस्थितिकी तन्त्र शब्द का सर्वप्रथम प्रयोग टेन्सले नामक वैज्ञानिक ने किया था।

∙ पारिस्थितिकी तन्त्र के कितने घटक हैं?

संरचनात्मक दृष्टि से पारिस्थितिक तन्त्र दो घटकों से बना होता है– (1) जैविक घटक  (2) अजैविक घटक।

∙ जैविक घटक के कितने भाग हैं?

जैविक घटक को तीन भागों में बांटा गया है-  उत्पादक, उपभोक्ता तथा अपघटक।

∙ उत्पादक कौन हैं?

उत्पादक वे हैं जो स्वयं अपना भोजन बनाते हैं। जैसे- हरे पेड़, पौधे।

∙ उपभोक्ता कौन हैं?

उपभोक्ता वे हैं जो उत्पादक द्वारा बनाए गये भोज्य पदार्थों का उपभोग करते हैं ।

∙ उपभोक्ता कितने प्रकार के हैं?

उपभोक्ता तीन प्रकार के हैं -प्राथमिक उपभोक्ता, द्वितीयक उपभोक्ता तथा तृतीयक उपभोक्ता।

∙ प्राथमिक उपभोक्ता कौन हैं?

वे जीव जो हरे पेड़ पौधे या उनके किसी भाग को खाते हैं प्राथमिक उपभोक्ता कहलाते हैं। जैसे- गाय, भैंस, बकरी, ऊंट आदि।

∙ द्वितीयक उपभोक्ता कौन हैं?

वे जीव जो प्राथमिक उपभोक्ताओं को अपने भोजन के रूप में प्रयोग करते हैं, द्वितीयक उपभोक्ता कहलाते हैं। जैसे- भेड़िया, लोमड़ी आदि।

∙ तृतीयक उपभोक्ता कौन हैं?

इसके अन्तर्गत वे जीव आते हैं जो द्वितीयक उपभोक्ताओं को अपने भोजन के रूप में प्रयुक्त करते हैं। जैसे- शेर, चीता, बाघ आदि।

∙ अपघटक क्या है?

इसके अन्तर्गत जीवाणु तथा कवक आते हैं जो मृत उत्पादक एवं उपभोक्ताओं का अपघटन करके उन्हें भौतिक तत्वों में परिवर्तित कर देते हैं।

∙ अजैविक घटक क्या है?

कार्बनिक पदार्थ, अकार्बनिक पदार्थ तथा जलवायवीय कारक अजैविक घटक हैं। जैसे- प्रकाश, ताप, वायु, जल, मृदा तथा खनिज तत्व  आदि।

. भारत में राष्ट्रीय उपभोक्ता  अधिकार दिवस कब मनाया जाता है?

24 दिसम्बर।

. राष्ट्रीय उपभोक्ता संरक्षण अधिनियम कब लागू हूआ?

24 दिसम्बर 1986 ई0।

. राष्ट्रीय उपभोक्ता संरक्षण अधिनियम का क्या उद्देश्य है?

राष्ट्रीय उपभोक्ता संरक्षण अधिनियम का उद्देश्य उपभोक्ता के शोषण ( जैसे- दोषपूर्ण सामान, असन्तोषजनक सेवाओं एवं अनुचित व्यापार प्रथाओं) के विरूध्द सुरक्षा उपाय प्रदान करना है।

. किस राज्य सरकार ने सरकारी कर्मचारी की सेवानिवृत्ति की आयु 60 वर्ष से घटाकर 58 वर्ष कर दिया है?

पंजाब।

. विश्व रक्षा दिवस कब मनाया जाता है?

01 मार्च।

. विश्व नागरिक सुरक्षा दिवस की स्थापना किसने की?

अन्तर्राष्ट्रीय सुरक्षा संगठन।

. शून्य भेदभाव दिवस कब मनाया जाता है?

01 मार्च को।

. वर्ष 20 की जनगणना के अनुसार किस केन्द्र शासित प्रदेश में भारत में अनुसूचित जाति का वितरण सबसे अधिक था?

लक्षद्वीप।

. वर्ष 2011 की जनगणना के अनुसार किस केन्द्र शासित प्रदेश में भारत में अनुसूचित जनजाति का वितरण सबसे अधिक था?

मिजोरम।

. विश्व दुर्लभ बीमारी दिवस कब शुरू किया गया?

वर्ष-2008में।

. विश्व दुर्लभ बीमारी दिवस-2020 का क्या विषय हैं?

रीफ्रेम रेयर।

. विश्व दुर्लभ बीमारी दिवस कब मनाया जाता है?

विश्व दुर्लभ बीमारी दिवस फरवरी माह के अन्तिम दिन मनाया जाता है।

. स्वामी विवेकानन्द कर्मयोगी पुरस्कार की स्थापना किसने की थी?

मारा होम इण्डिया।

. विश्व उपभोक्ता अधिकार दिवस कब मनाया जाता है?

15 मार्च को मनाया जाता है।

. उपभोक्ता की बचत का सिध्दान्त किसने दिया?

अल्फ्रेड मार्शल।

. केन्द्रीय एगमार्क प्रयोगशाला कहां पर स्थित है?

नागपुर में स्थित है।

. पारिस्थितिकी के अन्तर्गत किसका अध्ययन किया जाता है?

जीव समुदायों का उसके वातावरण के साथ पारस्परिक सम्बन्धों का अध्ययन किया जाता है।

. पारिस्थितिकी को क्या कहा जाता है?

एन्वायरमेन्टल बायोलांजी।

. पारिस्थितिकी शब्द का सर्वप्रथम प्रयोग किसने किया?

1866 ई0 में जर्मन जीव वैक्ज्ञानिक अर्नेस्ट हैकल ने।

.  पारिस्थितिकी शब्द का वास्तविक अर्थ क्या है?

पारिस्थितिकी शब्द का वास्तविक अर्थ, “घर का अध्ययन” है।

Related Articles

Back to top button
The Knowledge Gateway Would you like to receive notifications on latest updates? No Yes

AdBlock Detected

Please Consider Supporting Us By Disabling Your AD Blocker