BiologyBiologyBiologyBiologyBiology

मानव में होने वाले अनुवांशिक, हेलमेन्थस व अन्य महत्वपूर्ण रोग

Table Of Contents Hide
1 मानव में होने वाले अनुवांशिक, हेलमेन्थस व अन्य महत्वपूर्ण रोग
1.3 मनुष्य में होने वाली कुछ अन्य महत्वपूर्ण बीमारियाः

में होने वाले अनुवांशिक, हेलमेन्थस व अन्य महत्वपूर्ण रोग 

मनुष्य में होने वाले अनुवांशिक रोग (Genetic caused by humans)

मनुष्य में होने वाले प्रमुख अनुवांशिक रोग हीमोफीलिया, वर्णान्धता, टर्नर सिन्ड्रोम, क्लीनफेल्टर सिन्ड्रोम, डाउन सिन्ड्रोम तथा पटाऊ  सिंड्रोम हैं।

हीमोफीलिया (Haemophilia)  

यह रोग मुख्यतया पुरुषों में होता है। इस रोग से प्रभावित व्यक्ति को चोट लगने पर काफी देर तक रक्त का थक्का नहीं बनता है। यह रोग स्त्रियों में तभी होता है जब उनके दोनों गुणसूत्र (XX) प्रभावित हो।

वर्णांन्धता (Colour blindness) 

इस रोग की वाहक स्त्रियां हैं। यह रोग पुरुषों में होता है। इस रोग में लाल व हरा रंग पहचानने की क्षमता नहीं होती। यह रोग स्त्रियों में तभी होता है जब उनके दोनों गुणसूत्र (XX) प्रभावित हो।

टर्नर सिंड्रोम (Turner syndrome)   

यह रोग मुख्यतया स्त्रियों में होता है जिसमें स्त्रियों का शरीर अल्पविकसित, कद छोटा, वक्ष चपटा तथा जननांग अविकसित होते हैं। इसमें स्त्रिया बांझ जाती है। इस रोग से पीड़ित स्त्रियों में गुणसूत्रों की संख्या 45 होती है।

क्लीन फिल्टर सिंड्रोम (Clean syndrome) 

यह रोग पुरुषों में होता है जिसमें पुरुषों का वृषण अल्पविकसित तथा स्तन स्त्रियों के समान विकसित हो जाता है। इस रोग से ग्रसित पुरुषों में गुणसूत्रों की संख्या 47 होती है। इस रोग से ग्रसित होने पर पुरुष नपुंसक हो जाता है।

पटाऊ सिंड्रोमः

इसमें रोगी मन्दबुद्धि, नेत्र रोग प्रभावित हो सकता है, ओंठ बीच से कट जाता है तथा तालू में दरार हो जाती है। 

डाउन सिंड्रोमः 

इस रोग से ग्रसित व्यक्ति  में मंदबुद्धि , जीभ मोटी,  आंखों टेंढी तथा शारीरिक विकास अनियमित हो जाता है

हेल्मिन्थस द्वारा होने वाली बीमारियाः

 फाइलेरिया या हाथीपांवः

यह रोग फाइलेरिया बैंन्कोफ्टाई नामक क्रिमि से होता है जिसका संचालन क्यूलेक्स मच्छरों के काटने से होता है। इस रोग में वृषणकोषों, पैरों तथा शरीर के अन्य भागों में सूजन आ जाती है। इस रोग को हाथीपांव भी कहा जाता है।

अतिसारः 

यह रोग मनुष्य की आंत में मौजूद एस्केरिस लुम्र्बीकाइडीज नामक अंतः परजीवी प्रोटोजोआ (निमिटोड) द्वारा होता है जो घरेलू मक्खी द्वारा फैलता है।  इस रोग में आंतों में घाव हो जाता है तथा प्रोटीन पचाने वाला एंजाइम ट्रिप्सिन नष्ट हो जाता है।

मनुष्य में होने वाली कुछ अन्य महत्वपूर्ण बीमारियाः

चिकनगुनियाः    

यह एक संक्रामक रोग है जो मादा एडिस मच्छर के काटने चिकनगुनिया वायरस के कारण होता है।

पक्षाघात या लकवाः  

अत्यधिक के कारण मस्तिष्क की किसी धमनी के फट जाने या मस्तिष्क को रक्त की पर्याप्त आपूर्ति न हो पाने के कारण तंत्रिकाएं निष्कृय हो जाती है जिसके कारण चन्द समय में ही शरीर का कोई भाग  पक्षाघात या लकवा मार जाता है।

मिर्गी या आपस्मारः   

यह रोग मस्तिष्क के आंतरिक रोगों के कारण होता है। मिर्गी का दौरा पड़ने पर रोगी के मुंह से झाग निकलता है।

कैंसरः 

शरीर के किसी भी भाग में कोशिका वृद्धि अनियंत्रित हो जाने पर अनियमित कोशिकाओं के गुच्छे बन जाते हैं इन्हीं गुणों को कैंसर कहते हैं। कैंसर स्थापित होने में लगे समय को लाइट एन्ड पीरियड कहते हैं। इस रोग के इलाज में रेडान गैस का प्रयोग किया जाता है। रोगी को कीमोथेरेपी की जाती है।

कैंसर मुख्यतया 04 प्रकार का होता है– कार्सीनोमास, सार्कोमास, ल्यूकीमियास तथा लिम्पोमास।

कार्सीमोस कैंसर की उत्पत्ति  उपकला ऊतक सो होती है।

लिम्फोपास कैंसर प्लीहा एवं लसीका गांठों में होता है।

सोर्कोमास कैंसर अस्थियों, उपास्थियों, पेशियों तथा संयोजी ऊतकों में होता है।

ल्यूकीमियास कैंसर ल्यूकोमाइट्स में असाधारण वृध्दि के कारण होता है।

सीजोफ्रीनियाः

यह एक मानसिक रोग है जो कि प्रायः युवाओं में होता है। इस रोग से पीड़ित वयक्ति आवेशहीन, आलगावहीन, तथा आलसी हो जाता है और वास्तविकता को सत्य न समझ कर कल्पना को ही सत्य समझता है।

डिप्लोपियाः

यह रोग आंखों का मांसपेशियों के पक्षाघात के कारण होता है।

. किस रोग से प्रभावित व्यक्ति को चोट लगने पर काफी देर तक रक्त का थक्का नहीं बनता है?

हीमोफीलिया (Haemophilia)।

. हीमोफीलिया (Haemophilia) रोग किन स्त्रियों को होता है?

यह रोग उन स्त्रियों में होता है जिनके गुणसूत्र (XX) प्रभावित हो।

. वर्णांन्धता (Colour blindness रोग किन स्त्रियों को होता है?

यह रोग उन स्त्रियों में होता है जिनके गुणसूत्र (XX) प्रभावित हो।

. किस रोग में लाल व हरा रंग पहचानने की क्षमता नहीं होती?

वर्णांन्धता (Colour blindness)

. किस रोग में  स्त्रियों का शरीर अल्पविकसित, कद  छोटा, वक्ष चपटा तथा जननांग अविकसित होते हैं तथा स्त्रियां बांझ जाती है?

टर्नर सिंड्रोम (Turner syndrome)।

. टर्नर सिंड्रोम (Turner syndrome)रोग किन स्त्रियों को होता है?

यह रोग उन स्त्रियों में होता है जिनमें गुणसूत्रों की संख्या 45 होती है।

. किस रोग में पुरुषों का वृषण अल्पविकसित तथा स्तन स्त्रियों के समान विकसित हो जाता है?

क्लीन फिल्टर सिंड्रोम (Clean syndrome)।

. क्लीन फिल्टर सिंड्रोम (Clean syndrome) रोग से किन पुरुषों में होता है?

क्लीन फिल्टर सिंड्रोम (Clean syndrome) रोग उन पुरुषों में होता है जिनमें गुणसूत्रों की संख्या 47 होती है।

. किस रोग से ग्रसित होने पर पुरुष नपुंसक हो जाता है?

क्लीन फिल्टर सिंड्रोम (Clean syndrome)।

. फाइलेरिया रोग का संचालन किस मच्छर के काटने से होता है?

क्यूलेक्स मच्छरों के काटने से होता है।

. फाइलेरिया रोग किस क्रिमि से होता है?

फाइलेरिया बैंन्कोफ्टाई।

. किस रोग को हाथीपांव कहा जाता है?

फाइलेरिया रोग को हाथीपांव भी कहा जाता है।

. फाइलेरिया रोग मे मानव शरीर का कौन सा अंग प्रभावित होता है?

वृषणकोषों, पैरों तथा शरीर के अन्य भागों में सूजन आ जाती है।

. अतिसार रोग किसके द्वारा होता है?

एस्केरिस लुम्र्बीकाइडीज नामक अंतः परजीवी प्रोटोजोआ (निमिटोड) द्वारा होता है जो घरेलू मक्खी द्वारा फैलता है।

. चिकनगुनिया रोग किस वाइरस के कारण होता है?

चिकनगुनिया वायरस के कारण होता है।

. चिकनगुनिया रोग किस मच्छर के काटने से होता है? 

यह एक संक्रामक रोग है जो मादा एडिस मच्छर के काटने से होता है।

. किस रोग में अत्यधिक रक्त दाब के कारण मस्तिष्क की किसी धमनी के फट जाने या मस्तिष्क को रक्त की पर्याप्त आपूर्ति न हो पाने के कारण तंत्रिकाएं निष्कृय हो जाती है?

पक्षाघात या लकवा।

. कैंसर क्या है?

शरीर के किसी भी भाग में कोशिका वृद्धि अनियंत्रित हो जाने पर अनियमित कोशिकाओं के गुच्छे बन जाते हैं इन्हीं गुणों को कैंसर कहते हैं।

. कैंसर स्थापित होने में लगे समय को क्या कहते हैं?

लाइट एन्ड पीरियड कहते हैं।

. कैन्सर रोग के इलाज में किस गैस का प्रयोग किया जाता है?

रेडान गैस का प्रयोग किया जाता है।

. कैन्सर रोग का इलाज कैसे किया जाता है?

रोगी को कीमोथेरेपी की जाती है।

. ल्यूकोमिया कैन्सर किस कारण होता है?

ल्यूकोमाइट्स में असाधारण वृध्दि के कारण होता है।

. कैन्सर कितने प्रकार का होता है?

कैंसर मुख्यतया 04 प्रकार का होता है– कार्सीनोमास, सार्कोमास, ल्यूकीमियास तथा लिम्पोमास।

. किस रोग में रोगी वास्तविकता को सत्य न समझ कर कल्पना को ही सत्य समझता है?

सीजोफ्रीनिया रोग में।

Related Articles

Back to top button
The Knowledge Gateway Would you like to receive notifications on latest updates? No Yes

AdBlock Detected

Please Consider Supporting Us By Disabling Your AD Blocker