ChemistryChemistryChemistryChemistryChemistry

मानव निर्मित कुछ महत्तवपूर्ण पदार्थ (Some important man-made substance)

मानव निर्मित कुछ महत्तवपूर्ण पदार्थ (Some important man-made substance)

प्रमुख विस्फोटक पदार्थः

ट्राई नाइट्रोग्लिसरीन (T.N.G.)

ट्राई नाइट्रोग्लिसरीन एक विस्फोटक पदार्थ है जो सान्द्र सल्फ्यूरिक अम्ल तथा सान्द्र नाइट्रिक अम्ल की न्लिसरीन के साथ अभिक्रिया करके बनाया जाता है। इसे नोबल का तेल भी कहा जाता है । इसका प्रयोग डायनामाइट बनाने में किया जाता है।

ट्राई नाइट्रोटाल्विन (T.N.T.)   

ट्राई नाइट्रोटाल्विन एक विस्फोटक पदार्थ है जिसकी विस्फोटक गति 6900 मीटर प्रति सेकण्ड है।

ड्राई नाइट्रोफिनायल (T.N.F.)   

ड्राई नाइट्रोफिनायल एक विस्फोटक पदार्थ है जो फिनाल तथा सान्द्र HNO3 की क्रिया से बनाया जाता है। इसे पिकरिक अम्ल भी कहते हैं।

आर0 डी0 एक्स0

आर0 डी0 एक्स0 एक विस्फोटक पदार्थ है। आर0 डी0 एक्स0 का पूरा नाम रिसर्च एण्ड डेवलप्ड एक्सप्लोसिव तथा रासायनिक नाम साइक्लो ट्राई मिथाईलीन ट्राई नाइट्रोमाइन है। इसे प्लास्टिक विस्फोटक भी कहा जाता है। इसकी खोज 1899 ई0 में जर्मनी के वैज्ञानिक हेंस हेनिंग ने किया था। आर0 डी0 एक्स0 का सर्वप्रथम उपयोग द्वितीय विश्व युद्ध (1939 से 1945 ई0) के दौरान किया गया था। आर0 डी0 एक्स0 में तापमान तथा आग की गति को बढ़ाने के लिए एलुमिनियम चूर्ण मिलाया जाता है। आर0 डी0 एक्स0 की ऊष्मा 1510 किलो कैलोरी प्रति किलोग्राम होती है।

डायनामाइटः

डायनामाइट की खोज 1867 ई0 में अल्फ्रेड नोबल ने किया था। डायनामाइट एक विस्फोटक पदार्थ है। यह नाइट्रोग्लिसरीन को किसी अक्रिय पदार्थ जैसे लकडी के बुरादे में अवशोषित करके बनाया जाता है।

सीमेण्टः

चूना पत्थर या खडिया मृतिका (लाल मिट्टी) या शैल के साथ गर्म करने से प्राप्त होने वाले पदार्थ को सीमेण्ट कहते हैं। इसें कैल्सियम के एल्युमिनेटों तथा  सिलिकेटों का मिश्रण होता है।

सीमेण्ट का संघटकः

Cao 60 से 70%,  Al2O3 05 से 10%, SiO2 20 से 25%, Fe2O3 02 से 03%,  MgO  02 %,  K2O 1.5%,  Na2O 1.5 % तथा  SO2 01%  ।

. आधुनिक डायनामाइट में किसका प्रयोग किया जाता है?

आधुनिक डायनामाइट में नाइट्रोग्लिसरीन की जगह सोडियम नाइट्रेट का प्रयोग किया जाता है।

. बारूद (Gun Powder) क्या है?

बारूद एक विस्फोटक पदार्थ है। इसकी खोज रोजर बेकन ने किया था। बारूद बनाने में पोटेशियम नाइट्रेट का प्रयोग किया जाता है। बारूद का सर्वप्रथम प्रयोग 1346 ई0 में अंग्रेजों ने यूनान के युद्ध में किया था।

. साबुनीकरण क्या है?

साबुन बनाने की क्रिया को साबुनीकरण करते हैं।

. साबुन कितने प्रकार के होते हैं?  

साबुन दो प्रकार के होते हैः   1. कठोर साबुन   2. मुलायम साबुन।

. कठोर साबुन क्या हैं?

वे साबुन उच्च वसीय अम्लों के सोडियम लवण होते हैं कठोर साबुन कहलाते हैं। इनका उपयोग कपड़ा धोने में किया जाता है।

. मुलायम साबुन क्या हैं?

वे साबुन जो एक उच्च वसीय अम्लों के पोटैशियम लवण होते हैं मुलायम साबुन कहलाते हैं। इनका उपयोग स्नान करने में किया जाता है।

. डिटरजेण्ट क्या है?

डिटरजेण्ट में लम्बी श्रृंखला का हाइड्रोकार्बन होता है तथा श्रृंखला के अन्त में एक ध्रुवीय समूह होता है। जैसे– सोडियम एल्काइल सल्फेट, सोडियम एल्काइल बेंजीन सल्फेट आदि।

. उर्वरक (Fertilizer) क्या हैं?

मृदा में बाहर से मिलाये जाने वाले वे रासायनिक पदार्थ जो मृदा को उपजाऊ बनाने में सहायक होते हैं, उर्वरक कहलाते हैं। ये मृदा को उपजाऊ बनाने में सहायक होते हैं।

. उर्वरक कितने प्रकार के होते हैं? 

उर्वरक मुख्यतया तीन प्रकार के होते हैः

1.नाइट्रोजन के उर्वरक।

  1. पोटेशियम के उर्वरक।
  2. फास्फोरस के उर्वरक।

. नाइट्रोजन के उर्वरक क्या हैं?

इनमें मुख्यतया नाइट्रोजन पाया जाता है। जैसे- यूरिया, अमोनिया सल्फेट, कैलशियम सल्फेट, कैलशियम साइनामाइड आदि।

. यूरिया में कितने % नाइट्रोजन पाया जाता है?

यूरिया में 46% नाइट्रोजन होता है।

. आलू की फसल के लिए सर्वोत्तम उर्वरक कौन है?

अमोनिया सल्फेट में नाइट्रोजन अमोनिया के रूप में रहता है। इसमें लगभग 25% अमोनिया होती है । यह आलू की फसल के लिए सर्वोत्तम उर्वरक है।

. पोटैशियम के उर्वरक क्या हैं?

इनमें मुख्यतया पोटास पाया जाता है। जैसे-  पोटैशियम क्लोराइड पोटेशियम सल्फेट पोटेशियम नाइट्रेट आदि।

. फास्फोरस के उर्वरक क्या हैं?

इनमें मुख्यतया पोटास पाया जाता है । जैसे- सुपर फास्फेट ऑफलाइन, फास्फेटी धातुमल,  फास्फोरस आदि।

. सुपर फास्फेट कैसे बनाया जाता है?

सुपर फास्फेट हड्डियों को पीसकर बनाया जाता है।

. क्रित्रिम मधुरक कौन है?

सूक्रालोस, एलिटेम, सैकरीन, ऐस्पार्टेम आदि क्रित्रिम मधुरक हैं ।

. कांच क्या है?

कांच अक्रिस्टलीय ठोस रूप में एक अतिशीतित द्रव है। इसका कोई निश्चित गलनांक नहीं होता । कांच के निर्माण में कच्चे माल के रूप में रेत, सोडा तथा क्वार्टज का प्रयोग किया जाता है।

. बुलेट प्रूफ जैकेट बनाने में किसका प्रयोग किया जाता है?

बुलेट प्रूफ जैकेट बनाने में रेशेदार कांच का प्रयोग किया जाता है।

. कांच के ऊपर चित्र बनाने के लिए किसका उपयोग किया जाता है?

कांच के ऊपर चित्र बनाने के लिए फ्लुओरीन का उपयोग किया जाता है।

. फोटोक्रोमिक कांच धूप में स्वत: काला क्यों हो जाता है?

सिल्वर ब्रोमाइड की उपस्थिति के कारण फोटोक्रोमिक कांच धूप में स्वत: काला हो जाता है।

. कांच का रंग गहरा नीला क्यों होता है?

कोबाल्ट ऑक्साइड की कारण कांच का रंग गहरा नीला होता है।

. कांच का रंग हरा क्यों होता है?

सोडियम क्रोमेट या फेरस ऑक्साइड के कारण कांच का रंग हरा होता है।

. कांच का रंग चटक लाल क्यों होता है?

क्यूप्रस ऑक्साइड के कारण कांच का रंग चटक लाल होता है।

. कांच का रंग लाल क्यों होता है?

मैंगनीज डाइऑक्साइड के कारण कांच का रंग लाल होता है।

. कांच का रंग पीला क्यों होता है?    

कैडमियम सल्फेट के कारण कांच का रंग पीला होता है।

. कांच का रंग भूरा क्यों होता है?

फेरिक ऑक्साइड के कारण कांच का रंग भूरा होता है।

. कांच का रंग रूबी लाल क्यों होता है? 

गोल्ड क्लोराइड के कारण कांच का रंग रूबी लाल होता है।

. कांच का रंग पीकाक नीला क्यों होता है?

क्यूप्रिक लवण कारण कांच का रंग पीकाक नीला होता है।

. कांच का रंग नारंगी लाल क्यों होता है?

सेलेनियम ऑक्साइड के कारण कांच का रंग नारंगी लाल होता है।

. प्रयोगशाला के उपकरण बनाने में किस प्रकार के कांच का प्रयोग किया जाता है?

प्रयोगशाला के उपकरण बनाने में पाइरेक्स कांच का प्रयोग किया जाता है।

. धूप के चश्मे का लेन्स बनाने में किस प्रकार के कांच का प्रयोग किया जाता है?

धूप के चश्मे का लेन्स बनाने में क्रुक्स कांच का प्रयोग  किया जाता है।

. फ्लिन्ट कांच का प्रयोग क्या बनाने में किया जाता है?

फ्लिन्ट कांच का प्रयोग कैमरा, दूरबीन के लेन्स तथा विद्युत बल्ब बनाने में किया जाता है।

. सोडा कांच का उपयोग क्या बनाने में  किया जाता है?

सोडा कांच का उपयोग ट्यूबलाइट, बोतलें  एवं प्रयोगशाला के उपकरण बनाने में किया जाता है।

. प्रकाशीय कांच का क्या उपयोग है?

प्रकाशीय कांच का उपयोग चश्मा,  सूक्ष्मदर्शी,  टेलीस्कोप तथा प्रिज्म बनाने में किया जाता है।

. प्राकृतिक मधुरक कौन है?

सुक्रोज प्राकृतिक मधुरक है ।

 

 

 

Back to top button
The Knowledge Gateway Would you like to receive notifications on latest updates? No Yes