सर्वनाम (Pronoun)

0
46

सर्वनाम (Pronoun)

किसी वाक्य के वे शब्द जो संज्ञा के स्थान पर प्रयोग किए जाते हैं, सर्वनाम कहलाते हैं।

जैसे- रामू एक अच्छा लड़का है, वह फुटबाल खेल रहा है। उक्त वाक्य में “वह” शब्द सर्वनाम है।

सर्वनाम शब्द का प्रयोग संज्ञा की बार-बार आवृत्ति रोंकने के लिए किया जाता है।

सर्वनाम के प्रकारः

सर्वनाम 05 प्रकार के होते हैं-

  1. पुरूषवाचक सर्वनाम
  2. निश्चयवाचक सर्वनाम
  3. अनिश्चयवाचक सर्नाम
  4. सम्बन्धवाचक सर्वनाम
  5. प्रश्नवाचक सर्वनाम।

पुरूषवाचक सर्वनामः

वो शब्द जो बोलने वाले, सुनने वाले या किसी अन्य व्यक्ति का ज्ञान कराते हैं, पुरुषवाचक सर्वनाम कहलाते हैं।

जैसे- उसने मुझे बताया कि तुम कल आने वाली थी।

उक्त वाक्य में “उसने” , “मुझे” तथा “तुम” पुरूषवाचक सर्वनाम हैं।

पुरूषवाचक सर्वनाम 03 प्रकार के होते हैः

  1. उत्तम पुरूष
  2. मध्यम पुरूष तथा
  3. अन्य पुरूष।

उत्तम पुरूषः

वे शब्द जिन्हे वक्ता (बोलने वाला) अपने लिए प्रयोग करता है, उत्तम पुरूष कहलाता है। जैसे- मै, मेरा, मेरी, हम, हमारी, आदि।

मध्यम पुरूषः

वक्ता जिस शब्द का प्रयोग स्रोता (सुनने वाले) के लिए करता है उसे मध्यम पुरूष कहते हैं। जैसे- आप, तुम, तू, तुम्हारा आदि।

अन्य पुरूषः

वक्ता जिस शब्द का प्रयोग किसी अन्य व्यक्ति के लिए करता है उसे अन्य पुरूष कहते हैं। जैसे- वह, वे, उनका, उनकी, उसका, उसकी आदि।

निश्चयवाचक सर्वनामः

जिस शब्द से किसी निश्चित व्यक्ति या वस्तु का ज्ञान होता है उसे निश्चयवाचक सर्वनाम कहते हैं।

जैसे- वे जा रहे हैं। वह आ रहा है। यह खेल रहा है। ये बांसुरी बजा रहा है।

उक्त वाक्यों में “वे” ,“वह”,“यह” तथा “ये” शब्द निश्चयवाचक सर्वनाम है।

निश्चयवाचक सर्वनाम “यह” तथा “ये” पास वाले व्यक्ति या वस्तु के लिए तथा “वे” एवं “वह” दूर वाले व्यक्ति या वस्तु के लिए प्रयोग किया जाता है जिसके कारण इन्हे निश्चयवाचक सर्वनाम भी कहते हैं।

अनिश्चयवाचक सर्वनामः

वे शब्द जिससे किसी निश्चित व्यक्ति या वस्तु का ज्ञान नही होता है उसे अनिश्चयवाचक सर्वनाम कहते हैं।

जैसे- कोई जा रहा है। उक्त वाक्य में कोई शब्द जिससे किसी निश्चित व्यक्ति या वस्तु का ज्ञान नही होता है, निश्चयवाचक सर्वनाम है।

सम्बन्धवाचक सर्वनामः

वे सर्वनाम जो एक शब्द का दूसरे शब्द से सम्बन्ध जोड़ते हैं, सम्बन्धवाचक सर्वनाम कहलाते हैं।

जैसे- जो करेगा सो भरेगा। जिसकी लाठी उसकी भैंस।

उपरोक्त वाक्यों में जो, सो, जिसकी, उसकी शब्द सम्बन्धवाचक सर्वनाम है।

प्रश्नवाचक सर्वनामः

वे सर्वनाम जो प्रश्न पूंछने के लिए प्रयुक्त होते हैं, प्रश्नवाचक सर्वनाम कहलाते हैं।

जैसे- तुम कहां जा रहे हो। कौन गा रहा है। वहां किसे जाना है।

उपरोक्त वाक्यों में कहां, कौन तथा किसे शब्द प्रश्नवाचक सर्वनाम है।

सर्वनाम के रूपः

  1. मैं (उत्तम पुरूष)
  2. तू (मध्यम पुरूष)
  3. आप- निजवाचक, आदरसूचक (मध्यम पुरूष)।

मैं-    (उतत्म पुरूष)  

कारक                      एकवचन                                       बहुवचन

कर्ता                        मैं, मैंने                                       हम, हमने

कर्म                        मुझे, मुझको                                 हम, हमको

करण                       मुझसे, मेरे द्वारा                             हमसे, हमारे द्वारा

सम्प्रदान                   मुझको, मेरे लिए                             हमको, हमारे लिए

अपादान                   मुझको                                        हमसे

सम्बन्ध                     मेरा, मेरी, मेरे                             हमारा, हमारी, हमारे

अधिकरण                 मुझमें, मुझ पर                             हममें, हम पर

तू-   (मध्यम पुरूष)

कारक                       एकवचन                                          बहुवचन

कर्ता                          तू, तूने                                          तुम, तुमने

कर्म                          तुझे, तुझको                                    तुम्हे, तुमको

करण                        तुझसे, तेरे द्वारा                                 तुमसे, तुम्हारे द्वारा

सम्प्रदान                     तुझको, तेरे लिए                                तुमको, तुम्हारे लिए

अपादान                     तुझसे                                            तुमसे

सम्बन्ध                       तेरा, तेरी, तेरे                                   तुम्हारा, तुम्हारी, तुम्हारे

अधिकरण                   तुझमें, तुम पर                                   तुम में, तुम पर

वह-     अन्य पुरूष

कारक                          एकवचन                                      बहुवचन

कर्ता                           वह, उसने                                    वे, उन्होने

कर्म                            उसे, उसको                                  उन्हें, उनको

करण                          उससे, उसके द्वारा                           उनसे, उनके द्वारा

सम्प्रदान                      उसको, के लिए                               उनको, को लिए

अपादान                       उससे                                         उनसे

सम्बन्ध                        उसका, की, के                               उनका, की, के

अधिकरण                    उसमें, उस पर                                 उनमें, उन पर

 

आप-   निजवाचक, आदरसूचक  (मध्यम पुरूष)

कारक                          निजवाचक                               आदरसूचक (मध्यम पुरूष)

कर्ता                             आप                                        आप, आपने

कर्म                              आपको                                    आपको

करण                            आप से, आप के द्वारा                    आप से, आप के द्वारा

सम्प्रदान                        आप को, आप के लिए                    आप को, आप के लिए

अपादान                        आप से                                      आप से

सम्बन्ध                          आप का, आप की, आपके                आप का, आप की, आप के

आधिकरण                      आप में, आप पर                          आप में, आप पर

यह-    (निश्चयवाचक)

कारक                          एकवचन                                      बहुवचन

कर्ता                            यह, इस, इसने                             ये, इन, इन्होने

कर्म                             इसे, इनको                                  इन्हें, इनको

करण                           इससे                                         इनसे

सम्प्रदान                       इसको, इसके लिए                           इनको, इनके लिए

अपादान                       इससे                                          इनसे

सम्बन्ध                        इसका, इसकी, इसके                        इसका, इसकी, इनके

अधिकरण                     इसमें, पर                                     इनमें, इन पर

कोई-   (निश्चयवाचक)

कारक                          एकवचन                                      बहुवचन

कर्ता                          कोई, किसी ने                               कोई, किन्ही ने

कर्म                           किसी को                                     किन्हीं को

करण                          किसी से                                      किन्ही से

सम्प्रदान                       किसी को, के लिए                           किन्ही को, के लिए

अपादान                       किसी से                                      किन्ही से

सम्बन्ध                         किसी का, की, के                           किन्ही का, की, के

अधिकरण                      किसी में, किसी पर                         किन्हीं में, किन्हीं पर

कौन-    (प्रश्नवाचक)

कारक                          एकवचन                                      बहुवचन

कर्ता                            कौन                                         किसने

कर्म                            किसको                                      किनको

करण                          किससे                                        किनसे

सम्प्रदान                       किसको, के लिए                            किनको, के लिए

अपादान                       किससे                                       किनसे

सम्बन्ध                        किसका, की, के                             किनका, की, के

अधिकरण                     किसमें, किस पर                            किनमें, किन पर

नोटः आदरसूचक शब्द “आप” तथा निजसूचक शब्द “आप” के रूप मात्र एकवचन में होते हैं।