PhysicsPhysicsPhysicsPhysicsPhysics

ईंधन  (FUEL)

ईंधन  (FUEL)

वह पदार्थ जो हवा में जलकर बगैर अनावश्यक उत्पाद के उष्मा उत्पन्न करते हैं ,उन्हें ईंधन कहते हैं।

आदर्श ईंधन के गुणः

(1)  उष्मीय मान उच्च तथा प्रज्वलन ताप निम्न होता है।

(2)  जलने के दौरान या जलने के बाद कोई हानिकारक पदार्थ उत्पन्न नहीं होता।

(3)  जलने के बाद अधिक मात्रा में अवशिष्ट पदार्थ नहीं बचता।

ईंधन का उष्मीय मानः 

किसी ईंधन का उष्मीय मान ऊष्मा की वह मात्रा है जो उस धन ईंधन के 1 ग्राम को ऑक्सीजन या वायु में पूरी तरह जलाने पर प्राप्त होती है।

ईधन कितने प्रकारः

ईंधन दो प्रकार के होते हैः 1. ठोस ईंधन 2. गैसीय ईंधन।

  1. ठोस ईंधनR; लकड़ी, कोयला, कोक तथा चारकोल आदि ठोस ईंधन है।
  2. गैसीय ईंधन– गोबर गैस, कोल गैस, जल गैस, प्रोडूसर गैस तथा प्राकृतिक गैस आदि  गैसीय ईंधन हैं।

कोयला के प्रकारः

कार्बन की मात्रा की उपलब्धता के आधार पर कोयला चार प्रकार का होता हैः

  1. पीट कोयला।
  2. लिग्नाइट कोयला।
  3. बिटुमिनस कोयला।
  4. एन्थ्रासाइट कोयला।

. लिग्नाइट कोयला क्या है?

इसमें कार्बन की मात्रा 65 से 70% होती है । इसका रंग भूरा तथा जलवाष्प की मात्रा अधिक होती है।

. निम्न कोटि का कोयला किसे कहते हैं?

पीट कोयला को निम्न कोटि का कोयला कहते हैं। इस कोयले में कार्बन की मात्रा 50 से 60% होती है जिसे जलाने पर अधिक धुंआ तथा राख निकलता है जिसके कारण इसे निम्न कोटि का कोयला कहा जाता है।

. मुलायम कोयला  किसे कहते हैं?

बिटुमिनस कोयला को मुलायम कोयला  कहते हैं। इसमें कार्बन की मात्रा 70 से 85% होती है जिसका उपयोग घरेलू कार्यों में किया जाता है।

. उत्तम कोटि का कोयला किसे कहते हैं?

एन्थ्रासाइट कोयला को उत्तम कोटि का कोयला कहा जाता है। इसमें कार्बन की मात्रा 85% से अधिक होती है।

. गोबर गैस में कौन सी गैस होती है?

गोबर गैस में मीथेन गैस होती है जो वायु की उपस्थिति में जलती है।

. कोल गैस कैसे बनायी जाती है तथा यह किन-किन गैसों का मिश्रण है?  

कोल गैस कोयले के भंजक आसवन से बनाई जाती है जो वायु के साथ विस्फोटक मिश्रण बनाती है। इस गैस में 54% हाइड्रोजन, 35%मीथेन, 11% कार्बन मोनोऑक्साइड, 5% हाइड्रोकार्बन तथा 3% कार्बन डाइऑक्साइड होती है।

. प्रोड्यूसर गैस  कैसे बनायी जाती है तथा यह किन-किन गैसों का मिश्रण है?  

यह गैस लाल तप्त कोक पर वायु प्रवाहित करके बनाई जाती है जिसमें 70% नाइट्रोजन, 25% कार्बन मोनोऑक्साइड तथा 4% कार्बन डाइऑक्साइड होता है। इसका उष्मीय मान 1100 से 1750 किलो कैलोरी प्रति किलोग्राम होता है। प्रोड्यूसर गैस का उपयोग का कांच तथा इश्पात उद्योग में किया जाता है।

. प्राकृतिक गैस क्या है?

यह गैस पेट्रोलियम के कुएं से निकलती है जिसमें 95% हाइड्रोकार्बन होता है जिसमें 80% मीथेन होता है ।

. एल0 पी0 जी0 गैस क्या है?

घरों में उपयोग होने वाली द्रवित प्राकृतिक गैस को एल0 पी0 जी0 गैस कहते हैं जो ब्यूटेन तथा प्रोपेन का मिश्रण होता है जिसे उच्च दाब पर द्रवित कर सिलेण्डरों में भरा जाता है।

. जल गैस क्या है तथा इसका उपयोग कहां पर किया जाता है? 

जल गैस में 45% कार्बन मोनोऑक्साइड, 49% हाइड्रोजन तथा 4.5% कार्बन डाइऑक्साइड होती है। इसका उष्मीय मान 2500 से 2800 किलो कैलोरी प्रति किलोग्राम होता है । इस गैस का उपयोग हाइड्रोजन तथा अल्कोहल निर्माण में अपचायक के रूप में किया जाता है।

. सिगरेट लाइटर में किसका उपयोग करते हैं?

सिगरेट लाइटर में ब्यूटेन का उपयोग किया जाता है।

. एल0 पी0 जी0 गैस किसका मिश्रण है?

ब्यूटेन तथा प्रोपेन।

. जल गैस किसका मिश्रण है?

कार्बन मोनोऑक्साइड, हाइड्रोजन तथा कार्बन डाइऑक्साइड।

. जल गैस का उष्मीय मान कितना होता है?

2500 से 2800 किलो कैलोरी प्रति किलोग्राम।

. प्रोड्यूसर गैस का उपयोग कहां पर किया जाता है?

कांच तथा इश्पात उद्योग में।

. भविष्य का ईंधन किसे कहा जाता है?

हाइड्रोजन को भविष्य का ईंधन कहा जाता है।

. किस तत्व का उष्मीय मान सर्वाधिक होता है?

हाइड्रोजन का उष्मीय मान सर्वाधिक होता है जिसका उपयोग राकेट ईंधन के रूप में तथा उच्च ताप उत्पन्न करने वाले ज्वालकों में किया जाता है।

 

 

 

Related Articles

Back to top button
The Knowledge Gateway Would you like to receive notifications on latest updates? No Yes

AdBlock Detected

Please Consider Supporting Us By Disabling Your AD Blocker